scriptujjwala | उज्जवला ने रोकी उजड़ते वनों की रफ्तार अब गैस की मंहगी कीमत कर रही बंटाधार : VIDEO | Patrika News

उज्जवला ने रोकी उजड़ते वनों की रफ्तार अब गैस की मंहगी कीमत कर रही बंटाधार : VIDEO

मंहगाई- मई 2020 में 605 रूपए से बढ़कर अब 927 रूपए है एक सिलेंडर की कीमत.

कटनी

Published: January 22, 2022 10:57:38 pm

कटनी. खाना पकाने के लिए कभी ईंधन का प्रमुख स्रोत रही लकड़ी का विकल्प जब घरेलू गैस सिलेंडर बनी तो इसमें प्रधानमंत्री उज्जवला योजना से वनों की कटाई की रफ्तार काफी हद तक कम हुई। पर्यावरण संरक्षण में इस योजना को बेहतर माना गया। खासबात यह है कि बीते डेढ़ साल के दौरान एक सिलेंडर की कीमत 605 रूपए से बढ़कर अब 927 रूपए हो गई तो ग्रामीण अंचल में कई परिवारों के लिए गैस से खाना पकाना मंहगा साबित हो रहा है तो इसका असर भी जंगलों पर पडऩे की आशंका है। घरेलू गैस की लगातार बढ़ती कीमतों के बाद गांव में लोग अब लकड़ी से भोजन पकाने लगे हैं। कई घरों में जहां डेढ़ माह में रिफलिंग होती थी तो अवधि बढ़कर तीन माह हो गई है। कई लोग गैस से सिर्फ चाय बना रहे है, भोजन पकाने के लिए लकड़ी पर निभर्रता बढ़ रही है। जानकार बताते हैं कि मंहगी गैस पर्यावरण संरक्षण पर विपरीत असर डाल सकती है। सरकार को कीमतें कम करने पर विचार करना चाहिए।
pm ujjwala yojana news in katni
बहोरीबंद विकासखंड के नेगवां गांव में लकड़ी ही ईंधन का प्रमुख साधन.
वन विभाग कटनी के डीएफओ आरसी विश्वकर्मा बताते हैं कि उज्जवला योजना का प्रभाव अप्रत्यक्ष रूप से वनों के संरक्षण पर पड़ा है। ज्यादातर लोग गैस से भोजन पकाना पसंद करते हैं। शहडार के जंगलों में घनत्व ज्यादा है, हांलाकि कुछ कटाई हुई है। कटनी शहर के आसपास तो वनों में हरियाली बढ़ी है। 15 से 20 साल पेड़ बताते हैं कि वनों की कटाई कम हुई है।
सस्ती गैस से ऐसे समझें पर्यावरण में लाभ का गणित - मझगवां, कन्हवारा, कैलवारा, लखापतेरी, जुगियाकाप। जिला मुख्यालय के आसपास के ऐसे जंगल हैं जो कभी उजाड़ हो गए थे। यहां वर्तमान मे हरियाली है तो इन वनों में पेड़ भी अधिकतम 15 साल पुराने हैं। वर्तमान में ये अच्छे वनों में तब्दील हो रहे हैं। इनका घनत्व .4 है तो यहां अवैध वन कटाई के ठूठ भी नहीं दिखते। वन विभाग के अधिकारी भी इसके पीछे ईंधन जरूरतों की पूर्ति में घरेलू गैस सिलेंडर के शामिल होने का प्रमुख कारण मान रहे हैं।

गैस की मंहगाई पर बहोरीबंद विकासखंड के इमलिया गांव निवासी शिवकुमार राय बताते हैं कि 6 महीने से गैस नहीं भरवा रहे हैं। पहले हमेशा गैस भरवाते थे, लेकिन अब मंहगाई के कारण नहीं भरवा रहे हैं। लकड़ी से खाना पकाते हैं।
वहीं विजयराघवगढ़ के मझगवां गांव निवासी नीलू बतातीं हैं कि पहले गैस से भोजन पकाते थे, इस समय तो लकड़ी से ही पका रहे हैं। गैस खत्म हो गई तो मंहगाई के कारण भरवा नहीं पा रहे हैं।

गैस सिलेंडर के मंहगी होने से ऐसे आया उपयोग में अंतर
- 20 प्रतिशत कम हो गई नियमित गैस रिफलिंग करवाने वालों की संख्या.
- 30 प्रतिशत ऐसे लोग हैं जो कम से कम उपयोग करने लगे.
- 30 प्रतिशत लोग ऐसे हैं जो गैस से खाना के बजाए अब नाश्ता ही बनाते हैं.
- 20 प्रतिशत लोगों ने गैस का उपयोग बंद कर लकड़ी का उपयोग करने लगे.

20 माह में ऐसे बढ़ी घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत
- 605.00 मई 2020
- 623.50 जून 2020
- 723.00 दिसंबर 2020
- 797.00 फरवरी 2021
- 847.00 मार्च 2021
- 862.50 जुलाई 2021
- 887.50 अगस्त 2021
- 912.50 सितंबर 2021
- 927.50 अक्टूबर 2021

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Mukhtar Abbas Naqvi ने मोदी कैबिनेट से दिया इस्तीफा, बनेंगे देश के नए उपराष्ट्रपति?काली पोस्टर विवाद में घिरीं महुआ मोइत्रा के समर्थन में आए थरूर, कहा- 'हर हिन्दू जानता है देवी के बारे में'यूपी को बड़ी सौगात, काशी को 1800 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम Modi, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का करेंगे लोकार्पणDelhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवशिखर धवन बने टीम इंडिया के नए कप्तान, वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का हुआ ऐलानकौन हैं डॉ. गुरप्रीत कौर, जो बनने जा रही हैं भगवंत मान की दुल्हनिया? सामने आई तस्वीरसलमान के वकील को लॉरेंस गुर्गों की धमकी, मूसेवाला हाल करेंगेDGCA का SpiceJet को कारण बताओ नोटिस, 18 दिनों में 8 बार आई प्लेन में खराबी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.