प्राइवेट स्कूलों में लेनी है नि:शुल्क शिक्षा तो तत्काल पढ़ें ये खबर, शुरू हुई ये खास पहल

12 जून को लॉटरी सिस्टम से आवंटित होंगी सीट, शिक्षा विभाग ने शुरू की पहल

By: balmeek pandey

Updated: 01 May 2019, 11:28 AM IST

कटनी. जिले क जरुरतमंद विद्यार्थियों के लिए राहत भरी खबर है। शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीइ) के अंतर्गत अनुदान प्राप्त एवं प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया की समय सारणी जारी हो चुकी है। नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिककार अधिनियम 2009 की धारा 12(1)(म) के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए और कमजोर एवं वंचित समूह के लिए बच्चों के नि:शुल्क प्रवेश प्रक्रिया को पारदर्शी और आसान बनाने के उद्देश्य से प्रवेश की प्रक्रिया ऑनलाइन की गई है। जिले के 408 स्कूल इस दायरे में आये हैं। जहां पर 25 फीसदी बच्चों को हर प्राइवेट स्कूलों में प्रवेश दिलाना होगा। ऑनलाइन आवेदन, सत्यापन के पश्चात पात्र पाए गए बच्चों में से ऑनलाइन लॉटरी के माध्यम से स्कूलों का आवंटन किया जाएगा। अभिभावक अब बच्चों को प्राइवेट और अनुदान प्राप्त स्कूलों में प्रवेश दिलाने के लिए 29 मई तक आवेदन कर सकेंगे।

यह चलेगी प्रक्रिया
पोर्टल से ऑनलाइन आवेदन की पावती एवं सत्यापन प्रपत्र डाउनलोड करने की प्रक्रिया भी 29 मई तक चलेगी। इसके बाद आवेदकों द्वारा निकटतम जन शिक्षा केंद्र में उपस्थित होकर 30 मई तक सत्यापन का कार्य करा सकेंगे। 29 मई तक त्रुटि सुधार के लिए भी समय दिया जाएगा। 1 मई से पांच जून तक सत्यापन अधिकारियों से सत्यापन प्रपत्र प्राप्त कर बीआरसी द्वारा पोर्टल पर प्रविष्टी कराना होगी। 12 जून को पोर्टल पर पात्र दर्ज हुए बच्चों में से रेंडम पद्धति से ऑनलाइन लॉटरी द्वारा सीटों का आवंटन एवं चयनिक आवेदकों को एसएमए द्वारा सूचना दी जाएगी। 12 जून से 20 जून तक आवेदकों द्वारा पोर्टल से आवेदन पत्र डाउनलोड करना होगा। 13 जून से 25 जून तक प्राइवेट स्कूल के आवंटन पश्चात प्रवेश प्रक्रिया होगी। 13 जून से 30 जून तक पात्र पाए गए बच्चों का स्कूलों में प्रवेश एवं प्राइवेट स्कूलों द्वारा प्रवेशित बच्चों की पोर्टल पर रिपोर्टिंग दर्ज करना तथा प्रवेशित बच्चों का आधार सत्यापन किया जाएगा।

इनका कहना है
आरटीइ के तहत कमजोर वर्ग एवं वंचित समूह के बच्चों के मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों में नि:शुल्क प्रवेश प्रकिया प्रारंभ हो गई है। इस सत्र में ऑनलाइन आवेदन, सत्यापन केंद्रों में पात्रता का सत्यापन इसके बाद पात्र, अपात्र बच्चों की बीआरसी से एन्ट्री की जाएगी। पात्र बच्चों में से 12 जून को ऑनलाइन लॉटरी द्वारा स्कूलों का आवंटन होगा। लॉटरी के बाद सीधे प्रवेश स्कूल में बच्चे द्वारा लिया जाएगा। प्रवेश के साथ ही आधार सत्यापन किया जाएगा।
संध्या तिवारी, एपीसी।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned