कोरोना टीकाकरण को कटनी प्रशासन ने लगाया जोर, मोबाइल सेवा भी उपलब्ध

- कारागार में बंद कैदियों व बंदियों का भी हुआ टीकाकरण

By: Ajay Chaturvedi

Published: 13 Sep 2021, 03:00 PM IST

कटनी. कोरोना से बचाव हर किसी का होना चाहिए। इसके लिए प्रत्येक नागरिक को अपने स्तर से भी सचेत रहना चाहिए। अगर जानकार ये बता रहें है कि कोरोना से बचाव में टीकाकरण महत्वपूर्ण है तो यह नागरिकों की भी जिम्मेदारी बनती है कि वो खुद टीकाकरण केंद्र तक जा कर टीके की डोज अवश्य लें। हालांकि अब तो शासन-प्रशासन ने मोबाइल टीकाकरण की सुविधा भी उपलब्ध करा दी है ताकि अशक्तजन जो टीकाकरण केंद्र तक नहीं जा सकते उन्हें उनके घर या घर के पास पहुंच कर टीका लगाया जा रहा है। ऐसे में हर किसी को उसका लाभ उठाना ही चाहिए।

जिले के हर नागरिक को टीका लगाने के लिए प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग मुस्तैद है। अब कारागार में बंद कैदियों को भी यह सुविधा मुहैया कराई जा रही है। इसी के तहत रविवार को जिला कारागार में कैंप लगा कर कैदियों का टीकाकरण किया गया। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. समीर सिंघई बताते हैं कि रविवार को जिला जेल में आयोजित विशेष टीकाकरण शिविर के दौरान जेल में निरुद्ध बंदियों को कोविड संक्रमण से बचाव के लिए टीकाकरण किया गया। इस विशेष कैंप के दौरान 60 लोगों को वैक्सीन की प्रथम डोज लगाई गई है। वहीं 475 लोगों को दूसरे डोज का टीकाकरण किया गया है।

इसके अलावा नगर पालिक निगम कटनी सीमा क्षेत्र के तीन टीकाकरण केंद्रों पुरानी कचहरी कटनी, जिला उप जेल कटनी, प्राथमिक शाला पुरैनी एवं प्राथमिक शाला पहरूआ सहित दो मोबाइल टीम के माध्यम से टीकाकरण कराया गया। प्रभारी आयुक्त अशफाक परवेज के निर्देशन और प्रभारी कार्यपालन यंत्री राकेश शर्मा की मॉनीटरिंग में निगम के नियुक्त टीकाकरण केंद्र के 4 प्रभारियों तथा 12 सहयोगी कर्मचारियों ने टीकाकरण केंद्रों में नागरिकों की सुविधा के दृष्टिगत निगम प्रशासन ने साफ-सफाई, पेयजल, प्रकाश, फर्नीचर ही नहीं शामियाना आदि की भी व्यवस्था की।

मोबाइल वैक्सिनेशन अभियान

नगर के अधिक से अधिक नागरिकों को टीकाकरण का लाभ प्रदान करनें की दृष्टि से मोबाईल टीम के नियुक्त चार प्रभारियों और 14 सहयोगी कर्मचारियों ने भी जनप्रतिनिधियों, प्रबुद्ध वर्ग आदि के माध्यम से शाम 4 बजे तक फारेस्टर वार्ड भरत चौक सहित नगर के अन्य स्थलों में वैक्सीनेशन से वंचित लोगों को प्रेरित किया जाकर मोबाईल वैन-1 से लगभग 225 लाभार्थियों तथा मोबाइल वैन-2 से लगभग 206 लाभार्थियों को टीकाकरण का लाभ प्रदान किया गया।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned