scriptwater crisis, city, municipal corporation, supply, water, katni news | 37 टैंकर, फिर भी पानी को तरस रहे शहरवासी | Patrika News

37 टैंकर, फिर भी पानी को तरस रहे शहरवासी

टैंकर सप्लाई के नाम पर हो रही खानापूर्ति, प्रेमनगर में टैंकर से भी नहीं हो रही पर्याप्त जलापूर्ति

कटनी

Published: June 20, 2022 06:16:35 pm

कटनी। शहर के कई वार्डों में जलसंकट से जूझ रहे लोगों के लिए यह जानना जरूरी है कि नगरनिगम उन्हें पानी उपलब्ध कराने के लिए प्रतिदिन करीब 1 लाख रुपए टैंकर पर खर्च कर रहा है। प्रतिदिन 1 लाख रुपए खर्च करने और 37 टैंकरों की फौज शहर में दौडऩे के बावजूद नगरनिगम के शिकायत संबंधी कंट्रोलरूम में जल उपलब्ध न होने की शिकायतें पहुंच रही हैं। वार्डों में पानी न पहुंचने की शिकायतों के बाद पूरी टैंकर व्यवस्था पर ही सवाल खड़े हो रहे हैं।

water crisis, city, municipal corporation, supply, water, complaint, katni news
water crisis, city, municipal corporation, supply, water, complaint, katni news

प्रेमनगर में सिर्फ दो टैंकर पहुंच रहा पानी
बड़ी खिरहनी व प्रेमनगर बस्ती में सबसे अधिक पानी की समस्या हो रही है। प्रेमनगर निवासी मंगनी बाई, आशा विश्वकर्मा, सुषमा चौधरी, गीता चौधरी सहित अन्य ने बताया कि यहां दिनभर में सिर्फ दो टैंकर पानी पहुंच रहा है, जिससे सभी लोगों को पानी नहीं मिल पाता और परेशानी होती है।

प्रतिदिन 1333 की दर पर किराए से ले रखे हैं 37 टैंकर
नगरनिगम द्वारा शहरवासियों को पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए 37 टैंकर किराए पर लिए गए हैं। प्रति टैंकर 1333 रुपए किराया व 18 प्रतिशत जीएसटी की दर से भुगतान नगरनिगम कर रहा है। नगरनिगम जीएसटी सहित करीब 58 हजार 198 रुपए का भुगतान किराए के रूप में कर रहा है।

डीजल का खर्च भी दे रहे
नगरनिगम टैंकर के किराए के अलावा प्रतिदिन डीजल का खर्च भी खुद ही वहन कर रहा है। प्रति टैंकर न्यूनतम 10 लीटर डीजल की खपत आंकी जाए तो यहां 370 लीटर डीजल खपाया जा रहा है। इसकी कीमत प्रतिदिन 37000 होती है।

आठ दिन से नलों में नहीं आया पानी
शहर की दुबे कालोनी, जागृति कालोनी, बड़ी खिरहनी, गोपाल नगर, प्रेमनगर, रोशननगर सहित अन्य स्थानों पर नगरनिगम के नलों में पिछले आठ दिनों से पानी नहीं आया है, जिसके कारण लोग पानी के लिए परेशान हैं। दुबे कॉलोनी निवासी अभिषेक श्रीवास्तव, रामबिहारी गुप्ता, संगीता बाई सहित अन्य ने बताया कि यहां न तो टैंकर आता है और न ही नलों से पानी आ रहा है। आस-पड़ोस से पानी का इंतजाम कर रहे हैं।

वार्डों में टैंकर के माध्यम पेयजल की सप्लाई की जा रही है। जहां समस्या अधिक होती है वहां ज्यादा टैंकर भेजे जाते हैं। कंट्रोलरूम में आने वाले शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई की जा रही है।
सतेन्द्र धाकरे, आयुक्त, नगरनिगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, देवेंद्र फडणवीस ने किया ऐलानMaharashtra: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए सीएम, आज शाम होगा शपथ ग्रहण समारोहAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: एकनाथ शिंदे ने कहा- 50 विधायकों का भरोसा कभी टूटने नहीं दूंगाMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.