कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि देने जा रहे थे कांग्रेसी, पुलिस ने रोका तो जमकर की नारेबाजी

कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि देने जा रहे थे कांग्रेसी, पुलिस ने रोका तो जमकर की नारेबाजी

Shiv Pratap Singh | Publish: Apr, 17 2018 12:12:58 PM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

ग्रेसियों के कैंडल मार्च को पुलिस ने रोका, एसडीएम बोले नहीं हुआ धारा 144 का उल्लंघन

कटनी. आसिफा दुष्कर्म व हत्याकांड मामले में सोमवार शाम कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि देने जा रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के कैंडल मार्च को पुलिस ने मिशनचौक के समीप रोक लिया। जिले में धारा १४४ लागू होने के कारण बिना अनुमति निकाले जा रहे कैंडल मार्च को पुलिस द्वारा रोकने से कार्यकर्ता भड़क उठे। कार्यकर्ता मार्च निकालने पर अड़े रहे, लेकिन सीएसपी शशिकांत शुक्ला, कोतवाली टीआई शैलेष मिश्रा व पुलिस टीम ने उन्हें आगे नहीं बढऩे दिया। इसके खिलाफ कार्यकर्ताओं से सरकार और सीएम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आधा सैकड़ा से अधिक कांग्रेसियों के सड़क पर होने के कारण जाम की स्थिति निर्मित हो गई। मिशनचौक तक वाहन चालक समस्या से जूझते रहे। हंगामें की सूचना पाकर एसडीएम राजेन्द्र पटेल, तहसीलदार संदीप श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंचे। काफी समझाइश के बाद कांग्रेसी माने और सड़क पर ही कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि दी। इधर, कैंडल मार्च को लेकर एसडीएम राजेन्द्र पटेल ने कहा कि बिना अनुमति यह कार्यक्रम किया जा रहा था। धारा १४४ का उल्लंघन नहीं हुआ है। कैंडल मार्च के दौरान राकेश जैन कक्का, फिरोज अहमद, विजय पटेल, विजेन्द्र मिश्रा, विक्रम खंपरिया, राजा जगवानी, राजेश जाटव, नीरज शुक्ला, लाला शुक्ला सहित अन्य मौजूद रहे।

सड़क पर लग गया जाम
कांग्रेसियों के कैंडल मार्च को रोकने से सड़क पर दोनों ओर जाम लग गया। पुलिस ने मोर्चा संभाला और वाहनों के निकलने के इंतजाम किए। सूचना के बाद काफी देर से जब एसडीएम पहुंचे तो कांग्रेसियों ने उनसे चर्चा की और कैंडल मार्च निकालने पर अड़ गए। किसी तरह कांग्रेसी माने और सड़क पर कैंडिल रखकर श्रद्धाजंली दी।

--------------------------------------------------

कठुआ व उन्नाव में हुई घटना का मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कैंडल जलाकर किया विरोध
दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की
कटनी. कठुआ व उन्नाव में हुई दुष्कर्म की घटना का मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कैंडल जलाकर सोमवार रात विरोध प्रदर्शन किया। शासन व प्रशासन से घटना में शामिल लोगों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। इस मौके पर युवा मुस्लिम एकता के संरक्षक हाफिज सलाउद्दीन, अध्यक्ष गुुलाम जव्वाद अहमद, उपाध्यक्ष अफरोज मोहम्मद, सचिव अयाज अली, मंत्री सुभान अली, अली आजम,रिजवान अनवर, शेख गुलफाम, फैशल खान, हसीब काजी, इबरार मंसूरी, मुश्ताक अहमद सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned