बच्चों को लेकर एसपी ऑफिस पहुंची पुलिसकर्मियों की पत्नी, फिर शुरू हुई क्लास, जानिए क्या है वजह

बच्चों को लेकर एसपी ऑफिस पहुंची पुलिसकर्मियों की पत्नी, फिर शुरू हुई क्लास, जानिए क्या है वजह

shivpratap singh | Publish: Sep, 04 2018 12:10:36 PM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

पुलिस कंट्रोल में आयोजित हुई कार्यशाला, पुलिस परिवार एवं उनके बच्चों को पढ़ाया 'गुड टच-बैड टच का पाठ

कटनी. पुलिस परिवार एवं उनके बच्चों के लिए पुलिस कंट्रोल रूम में रविवार को आभास अभियान कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में कलेक्टर केवीएस चौधरी, एसपी मिथिलेश शुक्ला सहित आला अधिकारी व उनके परिवार के सदस्य शामिल हुए। इस दौरान बच्चों को गुड टच और बेड टच के बारे में बताया। अधिकारियों ने बताया कि अधिकांश मामलों में रिश्तेदार और करीबी ही बच्चों का शोषण करते हैं। यौन शोषण की शुरुआत परिवार और आसपास रहने वाले लोगों से ही होती है। ऐसे में न केवल इस बात को लेकर सजग रहने की जरूरत है बल्कि बच्चों को गुड टच और बैड टच का अंतर बताने की भी जरूरत है। यदि कोई करीबी ऐसी हरकत है जो अच्छा नहीं लग रहा है तो बच्चों को उसकी जानकारी अपने परिजनों को जरूर देनी चाहिए। कार्यशाला में सवालों के माध्यम से बच्चों के जीवन में हुई यौन शोषण से जुड़ी घटनाओं को जानने का प्रयास किया गया। यौन शोषण से बचने का तरीका भी बच्चों को बताया गया। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार लाल, उपपुलिस अधीक्षक मुख्यालय मनोज वर्मा, महिला थाना प्रभारी एसआई राखी पांडे सहित अन्य मौजूद रहे।


अभिभावकों को जागरूक रहने की आवश्यकता
पुलिस अधिकारियों ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि इसके लिए अभिभावकों को विशेष तौर से जागरूक रहने की आवश्यकता है। बच्चों से कहा कि वह अपने-अपने अभिभावकों से हर छोटी-बड़ी बातों को जरूर साझा करें। इसके अलावा उपस्थित लोगो को अपनी सुरक्षा कैसे करें व क्या ऐक्शन लें, इसका भी प्रशिक्षण दिया गया।
--------------------------------
महिलाओं को प्रताडि़त कर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने वाले पतियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज
माधवनगर व बहोरीबंद पुलिस ने जांच कर की कार्रवाई


कटनी. पति द्वारा लगातार प्रताडि़त किए जाने से परेशान होकर आत्महत्या करने वाली दो महिलाओं के पति के खिलाफ पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध किया है। आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने की कार्रवाई की गई है। माधवनगर थाना के एसआई मृदुल बाजपेयी ने बताया कि २४ अगस्त को विमला विश्वकर्मा निवासी ग्राम ठरका ने आत्महत्या कर ली थी। मामले की जांच में यह सामने आया है कि विमला का पति फुलचंद विश्वकर्मा उसे लगातार प्रताडि़त कर रहा था। पति की प्रताडऩा से तंग आकर ही उसने आत्महत्या की थी। इसी तरह बाकल चौकी प्रभारी जीपी शुक्ला ने बताया कि २५ जुलाई को सिहुंड़ी निवासी सियाबाई लोधी ने खुद को आग लगाकार आत्महत्या कर ली थी। प्रकरण की विवेचना में सामने आया कि महिला का पति जगत लोधी शराब का आदी था और रोजाना सियाबाई के साथ मारपीट कर उसे प्रताडि़त करता था। प्रताडऩा से तंग आकर सियाबाई ने यह आत्मघाती कदम उठाया था। पुलिस ने दोनों ही मामलों में धारा 306 ताहि के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

Ad Block is Banned