जनपद सीइओ पर आरोप, बगैर कमीशन दिए नहीं होते काम

जनपद सदस्य ने कलेक्टर व विकास आयुक्त से की जनपद सीइओ की शिकायत

By: balmeek pandey

Published: 27 Jan 2021, 08:49 PM IST

कटनी. जनपद पंचायत बहोरीबन्द की जनपद सीईओ मीना कश्यप पर गंभीर आरोप लगाते हुए जनपद सदस्य राम गोपाल विश्वकर्मा ने विकास आयुक्त और कलेक्टर से शिकायत की है। जनपद सदस्य ने बताया कि जनपद बहोरीबंद सीईओ मीना कश्यप तालाब निर्माण, तालाब जीर्णोद्धार, सुदूर सड़क, संबल योजना जैसे काम बगैर कमीशन के नहीं किए जाते। मनरेगा योजना के बिलों में बगैर 10 प्रतिशत कमीशन के बगैर बिलों का भुगतान नहीं किया जाता। मनरेगा योजना में जिनका भुगतान बाकी है उन कार्यों को पोर्टल में बंद कर दिया जाता है। रिओपन कराने पर सीईओ द्वारा पैसे की मांग की जाती है। बगैर पैसे के काम नहीं खोले जाते। जिसके लिए सरपंच-सचिव जनपद के चक्कर काटने को मजबूर होते हैं। इसके द्वारा निर्माण कार्यों का सत्यापन दफ्तर में बैठकर फर्जी तरीके से किया जा रहा है, मौके पर नहीं। जनपद सदस्य ने बताया कि पथराड़ी पिपरिया में निर्माण कार्यों में जांच में दोषी पाए जाने के बाद में जनपद सीईओ द्वारा उनके कार्रवाई की फाइल दबाकर रखी गई है। वहीं भकरवारा में नहर की नाली की खुदाई में मजदूरों की जगह जेसीबी का उपयोग किया गया था, चहेते उपयंत्री और सचिव के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई। इसके द्वारा दोषियों को संरक्षण दिया जा रहा है। मीना कश्यप इसी जनपद में दो बार पहले सीईओ रह चुकी हैं, फिर भी राजनैतिक जुगाड़ कर तीसरी बार भी इसी जनपद में अपनी पदस्थापना करवाया है।

इनका कहना है
शिकायतकर्ता द्वारा लगाए जा रहे आरोप निराधार हैं। अब पोर्टल का जमाना है। सभी एफटीओ ऑनलाइन होते हैं।
मीना कश्यप, जनपद सीइओ बहोरीबंद।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned