scriptYouth dies after car falls into canal | Video: संकेतक व सूचना बोर्ड ना होने से नहर में समाई कार, युवक की मौत | Patrika News

Video: संकेतक व सूचना बोर्ड ना होने से नहर में समाई कार, युवक की मौत

locationकटनीPublished: Dec 11, 2023 09:19:30 pm

Submitted by:

balmeek pandey

दो की हालत गंभीर, लापरवाही ने निगली युवक की जिंदगी, रीठी रोड में मझगवां फाटक के पहले हो रहा नर्मदा नहर के ऊपर पुलिया का निर्माण
चार साल से डायवर्सन मार्ग से हो रहा आवागमन, ठेकेदार की लापरवाही व नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों की सामने आई बेपरवाही

Video: संकेतक व सूचना बोर्ड ना होने से नहर में समाई कार, युवक की मौत
Video: संकेतक व सूचना बोर्ड ना होने से नहर में समाई कार, युवक की मौत

कटनी. कुठला थाना क्षेत्र अंतर्गत मझगवा रेलवे ओवर ब्रिज के पहले निर्माणधीन नर्मदा नहर के पुल में शादी समारोह कार्यक्रम में शामिल होकर दमोह रोड से वापस आ रहे युवक गंभीर हादसे का शिकार हो गए। बरगी दायींतट नहर में दो साल से पुलिया निर्माण हो रहा है, डायवर्सन सांकेतिक बोर्ड ना होने के चलते देररात कार नहर में समा गई। इस हादसे के बाद कार में सवार तीन युवकों में चीख-चित्कार मच गई। राहगीरों ने तत्काल 108 एंबुलेंस व कुठला पुलिस को जानकारी दी। सूचना मिलने पर घायलों को एंबुलेंस से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टर ने एक युवक को मृत घोषित कर दिया।
जानकारी के अनुसार कार क्रमांक एचआर 12 एसी 5718 दमोह से कटनी आ रही थी। जब देररात कार रात एक बजे मझगवा ओवर ब्रिज से शहर की ओर बढ़ी, तभी रास्ते में नहर में समा गई। कार में सवार अमरेश पिता सोमनाथ विंध (35) निवासी मिरकीपुर ग्राम थाना सुरियामा जिला भदोही उत्तर प्रदेश की मौत हो गई। जबकि मन्नू लाल पिता धनु लाल यादव (30) एवं लाल कुमार वैश्य पिता श्रीदास (21) निवासी बदायू उत्तरप्रदेश गंभीर से घायल हो गए। राहगीरों की सूचना पर घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पर चिकित्सक ने अमरेश को मृत घोषित कर दिया। रविवार को कुठला पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करतो हुए मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। वहीं घायलों को जबलपुर रैफर कर दिया गया है।

शादी समारोह से लौट रहे थे युवक
जानकारी के अनुसार तीनों युवक एमएसएलआर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में कंस्ट्रक्शन का काम करते थे। रीठी के पास किसी गांव में सहकर्मी के शादी समारोह में शामिल होने के लिए गए थे। रात में लौटते समय नहर के डायवर्सन प्वाइंट पर हादसे का शिकार हो गए। हादसा होने के बाद जिम्मेदार ठेकेदार जागा और मुरम डालकर ब्रेकर बनाने का काम किया गया। हैरानी की बात तो यह है कि प्रमुख मार्ग होने के बाद भी ठेकेदार ने ना तो यहां पर ठीक से डायवर्सन मार्ग बनवाया और ना ही संकेतक और सूचना बोर्ड लगवाया। इतना ही नहीं ब्रेकर व डिवाइडर कके भी कोई इंतजाम नहीं किए गए।

एक दम से आ जाती है मौत की खाई
मझगवां फाटक के समीप जानलेवा मार्ग बना हुआ है। राजमार्ग में एकदम से मौत की खाई सामने आ जाती है। नहर के ऊपर पुल का निर्माण न कराए जाने से हमेशा हादसे की आशंका बनी रहती है। कटनी-दमोह मार्ग पर मझगवां के समीप नहर पर पुल का निर्माण न होने से प्रतिदिन हजारों वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नहर पर पुल न बनने से यहां एप्रोच मार्ग से वाहन निकलते हैं। एप्रोच मार्ग में गड्ढे हैं और बारिश के कारण कीचड़ की स्थिति भी निर्मित होती है और अब सूखे दिनों में लोग धूल के गुबार से परेशान हैं। जानलेवा गड्ढे होने के कारण दोपहिया वाहन चालक हादसे का शिकार हो रहे है तो चारपहिया वाहन क्षतिग्रस्त हो रहे हैं। कटनी-दमोह, सागर, भोपाल जाने के लिए यह मुख्य मार्ग है। इसी मार्ग से होकर हजारों की संख्या में वाहन चालक यहां से गुजरते हैं और अफसरों की अनदेखी के कारण परेशान होते हैं।

अफसरों ने नहीं दिया ध्यान
जानकारी के अनुसार नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण की दायीं तट नहर यहां से होकर गुजरी है। लगभग चार वर्ष पूर्व मिट्टी धसकने के लिए यहां बना पुल क्षतिग्रस्त हो गया था। जिसके बाद मध्यप्रदेश रोड डेवलपमेंट कार्पाेरेशन द्वारा यहां से आवागमन बंद करवा दिया गया था। इसके बाद एनबीडीए के अफसरों ने पुल को तुड़वाया और यहां नया पुल बनाने का आश्वासन दिया था। मध्यप्रदेश रोड डेवलपमेंट कार्पाेरेशन द्वारा लंबा समय बीतने के बावजूद अबतक पुल निर्माण की सुध नहीं ली। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा समय पर पुल का निर्माण हो, इस दिशा में देरी से पहल हुई और काम भी मंथर गति से चल रहा है।

जानलेवा गड्ढा, हो सकता है गंभीर हादसा
रवि खरे, पप्पू निषाद, राकेश अग्रवाल, महेश निषाद, चंद्रेश मिश्रा आदि ने बताया कि पुल क्षतिग्रस्त होने के बाद इसे तोड़ दिया गया, पुल तोडऩ से हुए गहरे और बड़े गड्ढे में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए। अब धीमा निर्माण चल रहा है। रात के समय यहां वाहन चालक हादसे का शिकार हो रहे हैं। कई बार यहां पर दोपहिया सवार लोग नहर में गिरते बचे। हादसे भी हो चुके हैं, इसके बाद भी एमपीआरडीसी, एनबीडीए व जिला प्रशासन, पुलिस द्वारा यहां न तो बैरिकेटिंग कराई गई है और न ही इस स्थान को सुरक्षित किया गया है।

आधा सैकड़ा से अधिक गांवों के लोग परेशान
इस मार्ग से होकर कटनी व रीठी विकासखंड के आधा सैकड़ा से अधिक गांवों के लोग प्रतिदिन कटनी शहर के लिए आवागमन करते हैं। पुल का निर्माण न होने व व्यवस्थित डायवर्ड मार्ग न होने के कारण लोगों को समस्या का सामना करना पड़ता है।

वर्जन
दमोह रोड में मझगवां फाटक नहर के डायवर्सन प्वाइंट पर पुलिया में कार के गिरने से एक युवक की मौत हो गई है, दो युवक घायल हो गए हैं। ये रीठी क्षेत्र में आयोजित शादी समारोह में शामिल होकर लौट रहे थे। शव का पीएम कराते हुए मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है। जांच में लापरवाही सामने आने पर ठेकेदार के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
अभिषेक चौबे, थाना प्रभारी कुठला।