हीट को बीट देने यहां जाना पसंद कर रहे यूथ

समर सीजन में पारा इस बार शुरूआती दौर से ही दिखा रहा अपना रौद्र रूप

By: narendra shrivastava

Published: 10 Apr 2019, 06:49 PM IST

कटनी। समर सीजन में पारा इस बार शुरुआती दौर से ही अपना रौद्र रूप दिखा रहा है। ऐसे में लोग गर्मी से सुकून पाने की जुगत लगा रहे हैं। घरों में कूलर, एसी व पंखों का सहारा है तो सुबह व शाम के समय लोगों को पानी के किनारे भा रहे हैं। शहर व उससे लगे नदी के घाट लोगों को गर्मी में आकर्षित कर रहे हैं तो स्वीमिंग पूलों की मांग भी बढ़ गई है। हीट को बीट करने के लिए घाटों पर जाना और पानी में तैराकी का लुत्फ उठाना लोगों को काफी पसंद आ रहा है। इसके लिए लोगों ने स्वीमिंग सिखाने वालों का सहारा भी लेना शुरू कर दिया है। लोग सुबह से नदी किनारों और वॉटर फॉलों की ओर निकल पड़ते हैं। वहां बच्चों से लेकर बड़े बूढे तक पानी का आनंद उठाते हैं। शाम ढलते ही फिर लोग ठंडे स्थानों की ओर निकल पड़ते हैं। इस समय सबसे ज्यादा भीड़ ठंडे स्थानों पर ही देखी जा रही है। सबसे ज्यादा यूथ अपने साथियों के साथ पानी वाले स्थानों पर निकल जाते हैं। वहां मस्ती करने के बाद वापस लौट जाते हैं।

घुघरा फॉल आ रहा लोगों को पसंद
शहर की कटनी नदी में पानी कम होने के कारण लोगों को इन दिनों से शहर से नजदीक घुघरा संजय निकुंज का वॉटर फॉल पसंद आ रहा है। जहां पर लोग अपने परिवार के सदस्यों और फ्रेंड्स के साथ पहुंच रहे हैं। फॉल में यूथ गर्मी में ठंडक पाने के साथ-साथ सेल्फी का भी मजा ले रहे हैं। रविवार या अन्य अवकाश में यहां संख्या अधिक रहती है।

स्वीमिंग का लुत्फ
शहर में जहां कटनी नदी कटाएघाट में स्वीमिंग का आनंद उठा रहे हैं तो स्वीमिंग पूलों में भी तैराकी का मजा उठा लेने पहुंच रहे हैं। शहर के राहुल बाग, जालपा वार्ड, माधवनगर के साथ ही रेलवे के एनकेजे में बने स्वीमिंग पूल में लोग स्वीमिंग करने पहुंच रहे हैं तो निजी पूलों में गर्मी की शुरुआत के साथ ही स्वीमिंग का ्रप्रशिक्षण भी प्रारंभ कर दिया गया है। शहर के बड़े स्कूलों में बच्चों को भी परिसर में बने स्वीमिंग पूल में प्रशिक्षण के साथ ही गर्मी से राहत देने का प्रयास किया जा रहा है तो नगर निगम भी अपने पूल का सुधार करा रही है।

narendra shrivastava Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned