जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बीजेपी की करारी हार, निर्दलीय उम्मीदवार अनामिका सिंह जीतीं

कौशांबी की जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बीजेपी को करारी हार मिली है । इस सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार अनामिका सिंह ने जीत हासिल की है ।

By: Akhilesh Tripathi

Published: 22 Aug 2017, 04:31 PM IST

कौशांबी. विधानसभा चुनाव में मिली बड़ी जीत के जश्न में डूबी बीजेपी को बड़ा झटका लगा है । कौशांबी की जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बीजेपी को करारी हार मिली है । इस सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार अनामिका सिंह ने जीत हासिल की है । अनामिका ने एक तरफा मुकाबले में बीजेपी प्रत्याशी मधुपति को हरा दिया । अनामिका सिंह को 20, मधुपति को 8 मत मिले, जबकि एक मत अवैध रहा । अनामिका सिंह पूर्व चायल ब्लॉक प्रमुख सोनू पटेल की पत्नी हैं।

बता दें कि सपा के पूर्व ब्लॉक प्रमुख सोनु सिंह की पत्नी और निर्दलीय उम्मीदवार अनामिका सिंह की जीत के लिए सपा और बसपा नेताओं के अलावा बीजेपी के कई बागी नेताओं ने भी एड़ी चोट का जोर लगा दिया था । जीत के बाद अनामिका सिंह ने सपा के पूर्व सांसद शैलेन्द्र कुमार को जीत का क्रेडिट भी दिया है । जिला पंचायत के कुल 29 सदस्य हैं। अध्यक्ष की कुर्सी के लिए एक प्रत्याशी को 15 सदस्यों के वोट की जरूरत थी ।


इससे पहले जिला पंचायत अध्यक्ष उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार मधुपति ने अपनी ही सरकार के प्रशासनिक अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुये अपनी जान का ख़तरा जताया है। भाजपा उम्मीदवार का आरोप था कि पुलिस-प्रशासन पूरी तरह से विपक्षी उम्मीदवार से मिला हुआ है। मतदान में सिर्फ जिला पंचायत सदस्यों को कलेक्ट्रेट तक पहुंचने की अनुमति है। इसके बाद भी सदस्यों के पतियों व दूसरे कई असलहाधारियों को कलेक्ट्रेट के उदयन सभागार मे बैठाया गया है।

मधुपति का कहना था कि जिला मुख्यालय की सीमा को सील किया गया है, जबकि कलेक्ट्रेट के सामने तक लोगों का मेला लगा हुआ है। लगभग डेढ़ साल पहले सपा के समर्थन से जिला पंचायत अध्यक्ष बनने वाली मधुपति ने अविश्वास प्रस्ताव लाये जाने पर इस्तीफा दे दिया था। जिला पंचायत अध्यक्ष पद का उप चुनाव लड़ने वाली मधुपति ने रोते हुये बताया कि विपक्षी उम्मीदवार अनामिका व उनके पति अमित सिंह से उनकी जान का ख़तरा है।

 

 

Show More
Akhilesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned