यहां फेल है सरकार का दावा, जनता ने दी आंदोलन की चेतावनी

Ashish Kumar Shukla

Publish: Jan, 26 2018 09:12:16 PM (IST)

Kaushambi, Uttar Pradesh, India

कौशांबी. प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सेवा को दुरूस्त करने का दावा कर रही है, वहीं स्वास्थ्य विभाग का हाल बदहाल है। इस विभाग को लेकर सरकार का दावा जनपद में पूरी तरह फेल नजर आ रहा है। शुक्रवार को जब पूरा देश गणतंत्र दिवस के जश्न में डूबा हुआ था, एक प्रसूता को लेकर परिजन प्रसव कराने के लिए अस्पताल में भटक रहे थे। नर्स ने लौटा दिया, तो मजबूर होकर आशा कार्यकत्री निजी अस्पताल ले गई और प्रसव कराया। इससे जनता में आक्रोश है।

प्रसूता के पति रामबाबू के साथ ही अन्य लोग भी चिकित्सकों एवं स्वास्थ्यकर्मियों के लापरवाह रवैये से खिन्न हैं। मुख्यमंत्री एवं सरकार के अन्य मंत्री सरकारी अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सेवा, नि:शुल्क दवाएं और जांच की सुविधा उपलब्ध कराने का दावा कर रहे हैं, लेकिन लोगों की मानें तो जनपद के अस्पतालों में कभी डॉक्टर नहीं मिलते तो कभी दवाएं। अस्पतालों में 24 घंटे प्रसव की सुविधा के दावे की हकीकत भी प्रसूता को लौटाए जाने से उजागर हो चुकी है।


मुख्य चिकित्साधिकारी दे रहे रटा-रटाया बयान
जनपद के अस्पतालों में बड़ी घटनाएं सामने आती हैं और सीएमओ जांच कराकर कार्रवाई करने का रटा-रटाया बयान दे रहे हैं। लोगों का कहना है कि पहले भी कई दफे स्वास्थ्य सेवा पूरी तरह से धड़ाम होने की शिकायत की जा चुकी है, कार्रवाई का आश्चासन मिला लेकिन नतीजा सिफर ही रहा। लोगों ने चेतावनी दी है कि स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार नहीं हुआ, तो वृहद आंदोलन किया जाएगा।

 

 

Input By : Shivnandan Sahu

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned