दहेज मे नहीं मिली कार तो कहा तलाक तलाक तलाक...

थाने पहुंची पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार, जेवर एवं नकदी और पासपोर्ट लेकर हुआ फरार

By: Ashish Shukla

Updated: 15 Jan 2018, 06:40 PM IST

कौशांबी. सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीन तलाक पर लगाई गई रोक और देश में चल रही बहस को धता बता तीन तलाक दिए जाने का सिलसिला जारी है। जिले के मंझनपुर मे पिछले दिनों तीन तलाक दिए जाने का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा था, कि तीन तलाक का एक और मामला सामने आया है| तीन तलाक का यह दूसरा मामला सैनी थाना इलाके के गुलामीपुर गांव का है| जहां एक व्यक्ति ने दहेज में कार की मांग पूरी ना होने पर अपनी पत्नी को तलाक तलाक तलाक बोलकर तलाक दे दिया। सोमवार को थाने पहुंची पीड़िता ने इन्साफ की गुहार लगाई है।

 

 

जानकारी के अनुसार गुलामीपुर की रहने वाली पीड़िता शकीना बानो ने अपने पति इस्लाम पर आरोप लगाया है कि वह शादी के तीन साल बाद भी दहेज़ में कार की मांग करता था। उसकी मांग पूरी नहीं होने पर वह अक्सर उसके साथ मारपीट करता है। शनिवार की रात पति ने उसके साथ मार पीट किया और तीन बार तलाक बोल कर घर मे रखे जेवरात व नगदी लेकर फरार हो गया| पीड़िता ने आज सैनी कोतवाली पहुंच मामले की जानकारी पुलिस को दिया| पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है| सैनी कोतवाली के गुलामीपुर गनपा गाँव की रहने वाली शकीना बानो की शादी रिश्ते के मौसेरे भाई इस्लाम के साथ तीन साल पहले हुई थी| शादी के बाद से इस्लाम अपनी ससुराल मे ही रहता था| शकीना का आरोप है कि पिछले कुछ महीनों से उसका शौहर उसके साथ मार पीट करता था और उसके पिता से कार की मांग भी करता था| देर रात वह फिर कार देने की बात पर उसे और उसके पिता को गालियां देने लगा| विरोध करने पर इस्लाम ने उसके साथ मारपीट किया और उसे तीन बार तलाक कह कर उससे अपना रिश्ता तोड़ कर फरार हो गया।

 

 

खाड़ी देश भागने का अंदेशा
पीड़िता के अनुसार फरार होते समय उसका पति घर के जेवर, 19 हज़ार रुपये नकद और अपना पासपोर्ट एवं वीजा साथ लेकर गया है। तलाक पीड़िता ने सैनी पुलिस को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाईं है। उसने अंदेशा जताया है कि आरोपी पति देश के सख्त हो चुके तलाक के कानून से बचने के लिए खाड़ी देश भाग सकता है।

 

 

ससुर बोले, दिया बेटे जैसा प्यार
तलाक पीड़िता शकीना बानो के पिता सिराजुद्दीन का कहना है कि उन्होंने दामाद को बेटे की तरह अपने साथ रखा| उसके मां-बाप ने उसे बेसहारा छोड़ दिया था, उसी ने उसे खाड़ी देश भेजा और वापस आने पर बेटी के साथ निकाह करा अपने घर में पनाह दिया| इतना सब करने के बाद भी इसने तीन तलाक देकर उनकी बेटी की जिंदगी बर्बाद कर दिया|

 

 

है एक साल की मासूम
तलाक की शिकार हुई शकीना को एक साल की मासूम बेटी भी है। पुलिस से शिकायत करने थाने पहुंचे पिता-पुत्री का कहना है कि अब तो उन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ही न्याय की उम्मीद है|

 


बोलने से कतरा रही पुलिस
जनपद में एक के बाद एक तीन तलाक के मामले सामने आने के बाद पुलिस की मुसीबत बढ़ गई है। पुलिस तलाक के मसले पर कुछ भी बोलने से कतरा रही है। पुलिस अधीक्षक ने भी इस मामले पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।

 

 

Input By : Shivnandan Sahu

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned