जेल की बैरक में फांसी पर लटकता मिला बंदी

जेल की बैरक में फांसी पर लटकता मिला बंदी
Suicied

Sarweshwari Mishra | Updated: 02 Aug 2019, 05:45:33 PM (IST) Kaushambi, Kaushambi, Uttar Pradesh, India

जेल की बैरक में बंदी फांसी पर लटकता मिला मृतक की पत्नी ने जेल प्रशासन पर लगाया गंभीर आरोप, जांच शुरू

 

कौशांबी. जिला जेल में अपने भाई की पत्नी की हत्या करने के आरोप में निरुद्घ एक बंदी ने गुरुवार देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगा ली। जेल अधीक्षक के मुताबिक बंदी ने गमछे से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। मंझनपुर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। मृतक पत्नी ने जेल प्रशासन पर प्रताड़ना, मारपीट व जेल कर्मियों पर लापरवाही करने का आरोप लगाया है। एसडीएम सदर ने जांच के बाद कहा कि मामले में बड़ी करवाई हो सकती है। करारी थाना क्षेत्र के रसूलपुर सोनी गांव निवासी जुबैर अली को 20 जून 2019 को अपने भाई की पत्नी की हत्या के आरोप में करारी पुलिस ने जिला जेल भेजा था। बीती रात जुबैर अपनी ही बैरक के दरवाजे में गमछे के सहारे फांसी के फंदे से लटकता देखा गया। बाकी बंदियों ने शोर मचाया तो जेल कर्मियों ने उसे नीचे उतार जेल अस्पताल में भर्ती कराया।

 

 

 

जहां से जेल प्रशासन ने जुबैर को आनन-फानन में जिला अस्पताल भेजा। जहां पर डॉक्टरों ने जुबैर को मृत घोषित कर दिया। सुबह मामले की जानकारी मृतक के परिजनों को दिया गया। जिला अस्पताल पहुंची मृतक की पत्नी ने आरोप लगाया कि जेल में निरुद्ध होने के बाद जुबैर अली को प्रताड़ित किया जा रहा था। उसके साथ मारपीट भी की गई। उसने पेट दर्द की शिकायत भी की थी लेकिन उसकी बातों को अनसुना कर दिया गया। यह भी बताया कि जेल प्रशासन की प्रताड़ना से उसका पति काफी परेशान था। जेल की बैरक में बंदी फांसी पर झूल गया। उसके साथियों को कानोकान खबर तक नही हुई। जब हुई तो देर हो चुकी थी। इस मामले में जेल का कोई भी अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नही है। वहीं मामले की सूचना पर जिला अस्पताल व जेल पहुंचे एसडीएम मंझनपुर सतीश चंद्र का कहना है कि बंदी के मौत के हर पहलू की जांच होगी। डीएम को रिपोर्ट भेज दी गई है। जल्द ही किसी अधिकारी को जांच अधिकारी बनाया जाएगा जो बारीकी से पड़ताल करेंगे। मृतक की पत्नी के आरोपो के बाबत एसडीएम का कहना है कि जांच अधिकारी सभी पहलुओं की जांच करेंगे, उसी के बाद कुछ बताया जाएगा।

BY-Shivnandan Sahu

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned