स्नातक परीक्षा: छात्रों ने सुविधा शुल्क के नाम पर नहीं दिये रूपये तो कालेज प्रशासन ने छीन ली कापियां

मंझनपुर तहसील के अड़ौली स्थित एक कॉलेज में परीक्षा दे रहे छात्रों का आरोप है कि सुविधा शुल्क न देने वाले परीक्षार्थियों से कॉपी छीन ले गई

By: Ashish Shukla

Published: 13 Mar 2018, 08:38 PM IST

कौशाम्बी. इलाहाबाद राज्य विश्वविद्यालय द्वारा संचालित स्नातक परीक्षा में नक़ल के नाम पर सुविधा शुल्क वसूलने का आरोप लगा परीक्षार्थियों ने जमकर हंगामा किया। मंझनपुर तहसील के अड़ौली स्थित एक कॉलेज में परीक्षा दे रहे छात्रों का आरोप है कि सुविधा शुल्क न देने वाले परीक्षार्थियों से महज पंद्रह मिनट में ही कॉपी छीन ली जा रही है।

नाराज परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ कौशाम्बी-चित्रकूट मार्ग पर जाम लगा दिया। परीक्षार्थियों के परीक्षा छोड़ सड़क जाम की सूचना से प्रशानिक हमले में हड़कंप मच गया। आनन फानन में एसडीएम मंझनपुर कई थानों की पुलिस लेकर मौके पर पहुंचे। काफी प्रयास के बाद नाराज परीक्षार्थियों को समझा बुझा सड़क जाम ख़त्म कराया गया। एसडीएम ने परीक्षार्थियों के आरोपो की जाँच कर कार्यवाही किये जाने का आश्वासन दिया है। यूपी बोर्ड परीक्षा में नक़ल पर नकेल लगाने का दावा कर अपनी पीठ थपथपा रहे जिला प्रशासन स्नातक परीक्षा में हो रही नक़ल थामने में पूरी तरह से फेल नजर आ रहा है। जिले के 35 परीक्षा केंद्रों पर हो रही स्नातक परीक्षा में जमकर नक़ल कराये जाने की बात खुलकर सामने आ रही है।

मंझनपुर के अड़ौली स्थित कालेज में नक़ल के नाम पर सुविधा शुल्क मांगे जाने का आरोप लगा परीक्षार्थियों का सड़क जाम करना इस बात को बल देती है। अड़ौली स्थित माँ गुलाब देवी भार्गव महाविद्यालय में सुबह की पाली में परीक्षा दे रहे दर्जनों छात्रों ने कौशाम्बी-चित्रकूट मार्ग पर जाम लगा दिया। नाराज छात्रों का आरोप है कि कॉलेज प्रबंध तंत्र परीक्षार्थियों से पांच से पंद्रह हजार रुपया सुविधा शुल्क की मांग कर रहा है।

जिन छात्रों ने सुविधा शुल्क दे दिया उन्हें स्पेशल सुविधा देकर परीक्षा कराई जा रही है। जिन्होंने नहीं दिया उनकी कॉपी पंद्रह से तीस मिनट में ही छीन ली जाती है। सड़क जाम करने वाले परीक्षार्थियों का कहना है कि उनकी आज की परीक्षा दोबारा कराई जाए। परीक्षार्थियों द्वारा सड़क जाम की सूचना पर आनन फानन में एसडीएम मंझनपुर विवेक चतुर्वेदी व सीओ मोईन अहमद कई थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। एसडीएम ने बामुश्किल परीक्षार्थियों को समझा शांत करा सड़क जाम ख़त्म कराया। फिलहाल इस मामले में कालेज प्रबंध तंत्र मिडिया के सामने कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned