कुम्भ से पहले तैयार किये गए तीन पक्का घाट प्रमुख स्नान पर्वों पर हजारों श्रद्धालु लगाएंगे गंगा में डुबकी

शासन ने कहा कि कौशाम्बी के तीन प्रमुख गंगा घाटों के सौन्दरीकरण से श्रद्धालुओं को गंगा स्नान में सहूलियत मिलेगी

By: Ashish Shukla

Published: 30 Dec 2018, 09:01 PM IST

कौशाम्बी. प्रयागराज में 15 जनवरी से शुरू हो रहे कुम्भ मेले को लेकर जिले के गंगा घाटों को भी सजाया संवारा जा रहा है। जिले में तीन गंगा घाट को पक्का बनाकर उसका सौन्दरीकरण किया गया है। बारह करोड़ रुपये की लागत से दो-दो सौ मीटर के तीन घाट बनाये गए है। घाटों की देख रेख जिलाधिकारी व जनप्रतिनिधि कर रहे हैं। कुम्भ के दौरान इन घाटों पर हजारों श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाएंगे। जिले के कड़ा में कुबरी घाट, असतपुर घाट व मूरतगंज में पल्हाना गंगा घाट को पक्का किया गया है। बारह करोड़ रुपये की लागत से दो-दो सौ मीटर के तीनों घाटों का सौन्दरीकरण किया गया है।

घाट की सीढ़ियों में आकर्षक लाल पत्थर लगाए गए हैं। स्टील की रेलिंग लगा श्रद्धालुओं को गंगा तट तक आने जाने का सुलभ रास्ता बनाया गया है। महिलाओं के वस्त्र बदलने का स्थान व स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए शौचालयों का भी निर्माण कराया गया है। प्रकाश व्यवस्था के लिए बड़ी बड़ी हाईमस्ट लाइटें भी लगाई गई हैं। घाटों पर चल रहे निर्माण कार्य का सीधा जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा व सिराथू विधायक शीतला प्रसाद पटेल, चायल विधायक संजय गुप्ता देख रेख कर रहे हैं। जिलाधिकारी का कहना है कि कुम्भ के दौरान प्रयागराज में भीड़ अधिक हो जाती है, ऐसे में प्रमुख स्नान पर्वों पर जिले के हजारों श्रद्धालु वहां तक नही पहुंच पाते हैं।

शासन ने कहा कि कौशाम्बी के तीन प्रमुख गंगा घाटों के सौन्दरीकरण से श्रद्धालुओं को गंगा स्नान में सहूलियत मिलेगी। सिराथू विधायक शीतला प्रसाद पटेल का कहना है कि जिले के ऐतिहासिक व पौराणिक स्थल कड़ा के कुबरी घाट व असतपुर घाट पर यूं तो हजारों श्रद्धालु रोजाना गंगा स्नान करने पहुंचते है लेकिन प्रमुख स्नान पर्वों पर भीड़ कई गुना बढ़ जाती है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सरकार ने नमामि गंगे योजना से इन घाटों का कायाकल्प कराते हुए सौन्दरीकरण कराया है।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned