दुर्घटनाओं में मरने वालों की आत्मा की शांति के लिए मैराथन दौड़

जिलाधिकारी ने कहा कि यातायात नियमों के पालन से बड़ी से बड़ी दुर्घटनों को काफी हद तक रोका जा सकता है

कौशांबी.  देश के विभिन्न हिस्सों मे अलग अलग सड़क दुर्घटनाओं मे मरने वाले लोगों की आत्मा की शांति के लिए परिवहन विभाग ने मैराथन दौड़ का आयोजन कराया। कौशांबी मे मैराथन दौर की शुरुआत जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक व ए आर टी ओ ने हरी झंडी दिखा कर किया। दो किमी लंबी मैराथन दौर के विजेता प्रथिभागियों को जिलाधिकारी अखंड प्रताप सिंह व पुलिस अधीक्षक वी के मिश्रा ने प्रमाणपत्र व ट्राफी देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में विभिन्न सड़क हादसों मे मारे गए लोगों कि आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन भी रखा गया। 


इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि यातायात नियमों के पालन से बड़ी से बड़ी दुर्घटनों को काफी हद तक रोका जा सकता है। यातायात नियमों के पालन करने के लिए सबसे अच्छा माध्यम स्कूली बच्चे है। स्कूली बच्चों को यातायात का पाठ पढ़ाया जाता है तो उससे उनके परिवार को भी सीख मिलती है। 


पुलिस अधीक्षक वीके मिश्रा ने कहा कि आकड़े बताते हैं कि जितनी संख्या मे लोग सड़क हादसे मे मारे जाते है उतनी संख्या मे हत्या व दूसरे तरह के आपराधिक कारणों से लोगों कि मौतें नहीं होती। उप संभागीय परिवहन अधिकारी शंकर जीत सिंह ने बताया कि इस तरह के आयोजन से सड़क दुर्घटनाओं मे मारे गए लोगों की आत्मा को शांति मिलती है। 

Show More
sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned