अगर 2019 की शुरुआत सैर-सपाटे के साथ करना चाहते है तो जल्दी करें, वरना फुल हो जाएंगे ये स्पॉट

अगर 2019 की शुरुआत सैर-सपाटे के साथ करना चाहते है तो जल्दी करें, वरना फुल हो जाएंगे ये स्पॉट

Deepak Sahu | Publish: Dec, 31 2018 04:56:43 PM (IST) | Updated: Dec, 31 2018 07:32:57 PM (IST) Kawardha, Kabirdham, Chhattisgarh, India

हर किसी पर नए साल की खुमारी चढ़ गई है। हर कोई अपने-अपने तरीके से नए साल को वेलकम करना चाहते हैं।

कवर्धा. 2018 की विदाई होने वाली है और अब नया साल 2019 अब आपके सामने है। हर किसी पर नए साल की खुमारी चढ़ गई है। हर कोई अपने-अपने तरीके से नए साल को वेलकम करना चाहते हैं। यदि इस नए साल का शुरुआत सैर-सपाटे से करना चाहते हैं, तो जल्दी कर लीजिए। कहीं ऐसा न हो की मौज-मस्ती के सारे अड्डे फुल हो जाएं और आप धमाचौकड़ी करने में पीछे रह जाएं। आइए जानते है इन जगहों के बारे में
छग के खजुराहो भोरमदेव मंदिर

छत्तीसगढ़ में कवर्धा शहर से 18 किलोमीटर दूर छत्तीसगढ़ का खजुराहो भोरमदेव मंदिर स्थित है। मैकल पर्वतों और प्रकृति के बीच भोरमदेव मंदिर की छटा निराली दिखाई देती है। पर्यटन के लिहाज से भोरमदेव लोगों को काफी आकर्षित करता हैं। नव वर्ष पर यहां मनोरंजन के लिए बहुत कुछ है। 11 वीं सदी में निर्मित यह मंदिर ग्राम छपरी के पास घाटियों पर है। मंदिर परिसर में शिव, दुर्गा भैरव और हनुमान का मंदिर प्राचीन पाषाण मूर्तियों का संग्रह भी है। वैसे तो सालभर यहां लोगों का आना-जाना लगा रहता है, लेकिन मौका खास हो तो इसका अलग ही मजा है। नए साल मनाने के लिए भोरमदेव मंदिर से अच्छा स्थान दूसरा और नहीं हो सकता है। यहां रात में ठहरने व खाने-पीने का अच्छा बंदोबस्त है।

 

 

picnic spots

झर-झर बहता रानीदहरा जलप्रपात
बोड़ला से 10 किलोमीटर दूर रानीदहरा जलप्रपात पर्यटकों के लिए महत्वपूर्ण स्थान माना जाता है। रानीदहरा के नाम से ही इसकी सुंदरता झलकती है। इसके नाम का अर्थ पहाड़ों की रानी होता है। पहाड़ी से निरंतर पानी झरता रहता है, जो पर्यटकों को आकर्षित करता हैं। यहां पहुंचने के लिए बोड़ला से पक्की सडक़ बनी हुई है।

picnic spots

दुरदुरी नाला झरना
भोरमदेव अभयारण्य में सुंदर घाटियां और पहाड़ स्थित है। इसके पूर्वी भाग में दुरदुरी नाला जलप्रपात है। यह कवर्धा जिले की जीवनदायिनी कही जाने वाली संकरी नदी का उद्गम स्थल है। कल-कल बहती पानी की धार लोगों को सहज ही आकर्षित करता है। दुरदुरी नाला जलप्रपात से पानी कुछ दूरी तक अभयारण्य के अंदर बहती है। दुरदुरी जलप्रपात का पानी अभयारण्य में रहने वाले वन्यप्राणियों के लिए अमृत है। कवर्धा शहर से होते हुए दुरदुरी जलप्रपात का पानी शिवनाथ नदी में मिल जाती है।

picnic spots

घाटी के बीच सरोधा दादर
नए साल का स्वागत करने के लिए प्रकृति के बीच जाना चाहते हैं, तो वनांचल स्थित चिल्फीघाटी बेहतर जगह है। वैसे भी जाड़े के दिनों में घाटी घूमने का अलग ही मजा है। मौजूदा समय में यहां बर्फ की हल्की परत भी जमती देखी जा रही है। नए साल में मौज-मस्ती के लिए यहां से महज तीन किमी दूर सरोधादादर भी स्थित है।

इसके ठीक नजदीक बैगा रिसोर्ट और पीड़ाघाट रिसोर्ट बना है, जो पर्यटन के लिहाज से बहुत अच्छी जगह है। शहर के कोलाहल से दूर और प्रकृति के बीच नया साल मनाने के लिए काफी अच्छा माहौल उपलब्ध होगा। सरोधादादर से 25 किमी दूर बहेराखार जलाशय स्थित है। इस जलाशय के ताम्र परियोजना मलाजखंड(मप्र) में पानी की आपूर्ति की जाती है। बांध की सुंदरता देखते ही बनती है।

picnic spots

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned