Chaitra Navratri 2020: नवरात्रि पर्व पर लगा कोरोना का ग्रहण, पहली बार भक्तों के लिए बंद रहेगा माता का दरबार, घर पर ही करें पूजा

कोरोना को लेकर विश्व में हाहाकार मचा हुआ है। इधर चैत्र नवरात्री पर भी कोरोना का ग्रहण लगा हुआ है।

कवर्धा. कोरोना को लेकर विश्व में हाहाकार मचा हुआ है। इधर चैत्र नवरात्री पर भी कोरोना का ग्रहण लगा हुआ है। इस वर्ष नवरात्रि पर देवी मंदिरों में श्द्धालुओं की भीड़ नहीं जुट पाएगी। कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के मद्देनजर जिला प्रशासन ने मंदिरों के गेट बंद रखने के निर्देश दिए है।

कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के चलते सभी प्रमुख्य मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर और गुरुद्वारों के दरवाजे बंद करने के निर्देश दिए है। इस दौरान सभी धार्मिक प्रतिष्ठानों पर विविध रूप से पूजा अर्चना होगी। लेकिन चार से अधिक लोगों को एक साथ एकत्रित होने नहीं दिया जाएगा।

मनोकामना ज्योति कलश नहीं होगा प्रज्वलित
इस आदेश के तुरंत बाद कई मंदिरों में मंदिर समिति द्वारा नवरात्रि पर्व को लेकर सूचना जारी कर दी गई है। नगर के प्रमुख्य सिद्धिपीठ महामाया मंदिर के पुजारी द्वारा मंदिर के बाहर दिवार व अन्य स्थानों में सूचना चस्पा कर दिया गया है। मनोकामना ज्योति कलश प्रज्वलित नहीं किए जाएंगे। वहीं देश में लॉकडाउन होने के कारण मंदिर परिसर में भक्तों का प्रवेश प्रतिबन्धितं रहेगा।

पहली बार माता का दरबार बंद
इस बार पहली बार ऐसा हो रहा है, जब लगभग सभी मंदिरों वाले देश एक सी समस्या से ग्रसित हैं, और लगभग किसी भी मंदिर में भक्तों के लिए इस नवरात्रि में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned