कवर्धा में दो सैलून संचालक मिले कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए 120 से ज्यादा लोग दशहत में

पंडरिया में दो सेलून संचालक कोरोना पॉजिटिव मिले। इन्हें पता नहीं वह किसके संपर्क में आने वह संक्रमित हुए। वहीं अब खतरा यह है कि इनके संपर्क में आने से न जाने कितने लोग संक्रमित हो जाए। (Chhattisgarh coronavirus update)

By: Dakshi Sahu

Published: 20 Jul 2020, 01:44 PM IST

कवर्धा. जिले में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण और इनमें पीडि़तों की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढऩे लगी है। पहले सिर्फ क्वारंटाइन सेंटर से ही मरीज मिल रहे थे। लेकिन अब रहवासी इलाके में मिल रहे हैं जिससे सामुदायिक संक्रमण का खतरा बना हुआ है। कबीरधाम जिले में कोरोना कोविड-19 के संक्रमण लगातार बढ़ते जा रहा है। एम्स से जारी रिपोर्ट के आधार पर जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 136 हो चुकी है। अब सबसे बड़ी चिंता की बात यह है कि नए केस में संक्रमित मरीज मिल रहे हैं जिनको संक्रमण कहां हुआ इसके बारे में पता नहीं चल रहा है। पंडरिया में दो सेलून संचालक कोरोना पॉजिटिव मिले।

इन्हें पता नहीं वह किसके संपर्क में आने वह संक्रमित हुए। वहीं अब खतरा यह है कि इनके संपर्क में आने से न जाने कितने लोग संक्रमित हो जाए। रविवार को पंडरिया नगर में पांच वार्डों के संदिग्ध 120 लोगों के वीटीएम सैम्पल लिए गए। सैम्पल को जांच के लिए रायपुर भेजा जाएगा। करीब दो दिनों में इनकी रिपोर्ट आ जाएगी। तब तक के लिए सभी संदिग्धों को होम क्वारंटाइन के निर्देश दिए गए हैं। पंडरिया बीएमओ डॉ. बीएल राज के मुताबिक इसमें अभी और कई कोरोना संक्रमित मिल सकते हैं। सेलून संचालक के संपर्क में आने से ग्राम बिजाभाठा का एक लड़का भी संक्रमित हो ही चुका है।

ग्राहक के संपर्क में आकर हुए संक्रमित
ग्राम खड़ौदाखुर्द में एक कपड़ा और एक किराना व्यापारी कोरोना की चपेट में आए। इनकी भी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। मतलब यह अपने ही किसी ग्राहक के जरिए संक्रमित हुए। इनके सैम्पल लेने के पूर्व तक न जाने कितने लोग इनके संपर्क में आए। यहां पर करीब 54 लोगों का सैम्पल लिया गया। वहीं ग्राम खैरबनाकला में एक बुजुर्ग महिला और 3 साल के बच्चे की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। तारो और खैरबनाकला के क्वारंटाइन सेंटर में कई लोग ठहरे थे। संभावना जताई जा रही है इन्ही सेंटर के किसी संक्रमित के संपर्क में आने से यह भी संक्रमित हो गए। वहीं ग्राम मोटयारी में बीमा एजेंट के संपर्क में आकर एक ग्रामीण कोरोना संक्रमित हो गया। इसके संपर्क में आने वाले 22 लोगों का सैम्पल लिया गया।

इस तरह से बढ़ रहा संक्रमण
जिले में कोरोना संक्रमण अब तेजी से बढ़ रहा है। लॉकडाउन के दौरान मई में केवल 19 कोरोना संक्रमित मिले थे, लेकिन लॉकडाउन की जगह अनलॉक होते ही जून में 84 मरीज मिले। वहीं अब भी 18 दिनों के भीतर ही जुलाई में 33 कोरोना संक्रमितों की पहचान हो चुकी है। वहीं कवर्धा में जांच शुरू होने के बाद सैम्पल लेने का दायरा बढ़ जाएगा। मतलब अधिक मात्रा में संक्रमितों की मिलने की आशंका है।

कहीं भी निमयों का पालन नहीं
स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन द्वारा लोगों से घरों में रहने व सोशल डिस्टेंस बनाने की समझाइश दे रहे हैं लेकिन बाहर में ऐसी स्थिति नहीं है। सोशल डिस्टेंस को दरकिनार करते हुए लोग मेल-जोल और खरीदी कर रहे हैं। बैंक, शराब दुकान सहित शहर के बाजार और किराना दुकानों में भी सोशल डिस्टेंसिंग नहीं है। वहीं मनाही के बाद भी होटल में बैठाकर ही नाश्ता कराया जा रहा है। जहां पर सेनेटाइज है न ही हाथ धोने के लिए साबुन। ऐसे में ही सामुदायिक संक्रमण का खतरा है।

नए संक्रमण के केस सामने आने से चिंताएं बढ़ रही हैं लेकिन दूसरी तरफ मरीज ठीक भी हो रहे हैं। जिले में अब तक 136 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इसमें कुल 112 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। इसमें इसी माह भर्ती हुए 9 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं। वहीं फिलहाल 24 मरीज रायपुर एम्स और राजनांदगांव के कोविड अस्पताल में भर्ती हैं।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned