कोविड संकट में ट्रैवल के लिए ई-पास की अनिवार्यता खत्म पर चेक पोस्ट के नियम हुए सख्त

राज्य के भीतर और अंतरराज्यीय आवागमन के लिए अब ई-पास की अनिवार्यत: राज्य शासन द्वारा खत्म कर दी गई है, लेकिन चेक पोस्ट पर जानकारी देनी होगी। (chhattisgarh coronavirus lockdown )

By: Dakshi Sahu

Published: 26 Aug 2020, 04:19 PM IST

कवर्धा. राज्य के भीतर और अंतरराज्यीय आवागमन के लिए अब ई-पास की अनिवार्यत: राज्य शासन द्वारा खत्म कर दी गई है, लेकिन चेक पोस्ट पर जानकारी देनी होगी। कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए कान्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए स्वैच्छिक रूप से ई-पास का उपयोग किया जाएगा, ताकि ट्रेव्हल हिस्ट्री का रेकार्ड उपलब्ध हो सके और संभावित मरीजों की समय पर पहचान की जा सके।

चेक पोस्ट पर देनी होगी पूरी जानकारी
ई-पास लेकर नहीं आने वाले लोगों का जिले के प्रवेश द्वार पर बनाए गए चेक पोस्ट पर जांच किया जाएगा। वहां उनका नाम और मोबाईल नम्बर लिया जाएगा ताकि क्वारंटाइन करने और कांटेक्ट ट्रेसिंग करने में आसानी हो। कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने चेक पोस्ट में ड्यूटी दे रहे अमलों को निर्देशित करते हुए कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की यात्रा हिस्ट्री की जानकारी ली जा सकती है।

कलेक्टर ने जिले के ग्राम पंचायतों के सचिव, सरपंच, पंचायत प्रतिनिधि और लोगों से कहा कि वे गांव और आसपास आने वालों की जानकारी जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए ताकि कोविड 19 के दिशा-निर्देश अनुसार उनके रोकथाम और नियंत्रण की दिशा में बेहतर काम कर सके।

सबकी होगी जांच
कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोरोना वायरस जांच में तेजी लाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि जिले में टेस्टिंग किट की कमी नहीं है। आवश्यकतानुसार अधिक से अधिक टेस्ट करें। कलेक्टर ने मार्केट एरिया, शासकीय कार्यलयों, होम गार्ड, थानों, कैम्पो, कांटेक्ट ट्रेसिंग टीम, क्वारंटाइन सेंटर में काम कर रहे कर्मचारियों का टेस्ट कराने के निर्देश दिए।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned