scriptIn Gayatri Shaktipeeth, instead of hundreds, only one eternal wish lig | गायत्री शक्तिपीठ में सैकड़ों के बजाए एक अखण्ड मनोकामना ज्योति ही प्रज्ज्वलित | Patrika News

गायत्री शक्तिपीठ में सैकड़ों के बजाए एक अखण्ड मनोकामना ज्योति ही प्रज्ज्वलित

गायत्री शक्तिपीठ में वर्ष 2001 से अखण्ड ज्योति प्रज्ज्वलित हो रहे हैं। ज्ञान का प्रकाश फैलाने वाला यह आध्यात्मिक केंद्र अपने में अकेला, अनूठा दर्शनीय स्थल है।

कवर्धा

Updated: April 02, 2022 03:03:52 pm

कवर्धा. आज से चैत्र नवरात्रि प्रारंभ हो चुकी है। कवर्धा शहर के सिद्धपीठ देवी मंदिरों में सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त पर ज्योति प्रज्जवलित किया जाएगा। गायत्री शक्तिपीठ में विशेष अनुष्ठान व अखण्ड जाप सुबह ६ बजे से ही प्रारंभ होगा, पूरे नवरात्र जारी रहेगा।
चैत्र नवरात्रि में सभी देवी मंदिरों में सैकड़ों मनोकामना ज्योति कशल प्रज्ज्वलित कराए जाते हैं, लेकिन मां गायत्री शक्तिपीठ में ज्योति कलश प्रज्ज्वलित कराने वाले श्रद्धालुओं की संख्या तो दर्जनों है, लेकिन गायत्री शक्तिपीठ में केवल एक ही ज्योति प्रज्ज्वलित होते हैं। मंदिर समिति के गोपेश्वर वर्मा ने बताया कि गायत्री शक्तिपीठ में वर्ष 2001 से अखण्ड ज्योति प्रज्ज्वलित हो रहे हैं। ज्ञान का प्रकाश फैलाने वाला यह आध्यात्मिक केंद्र अपने में अकेला, अनूठा दर्शनीय स्थल है। यह प्रसिद्ध तीर्थभूमि, नियमित यज्ञ,नियमित जप और संस्कारों की परंपरा को जाग्रत एवं जीवंत बनाए रखने के लिए कृत संकल्पित है। यह वेदमूर्ति तपोनिष्ठ परम पूज्य गुरुदेव पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य के विचार क्रांति अभियान को जन जन तक पहुंचाने के लिए एक जीवंत शक्तिपीठ हैं। देवी मंदिरों की बात करे तो शनिवार को वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ देवी आह्वान, घट स्थापना और पूजन कर ज्योति कलश प्रज्ज्वलित किया जाएगा। घट स्थापना और देवी के लिए प्रथम ज्योति जिसे माई ज्योति कहते हैं, श्रेष्ठ शुभ मुहूर्त पर प्रज्ज्वलित होंगे। देवी मंदिरों में आज भी कलश पर ज्योति प्रज्ज्वलन चकमक पत्थर के जरिए ही किया जाता है। यह सदियों से चली आ रही विधि है, जिसका पालन सभी मंदिरों में किया जाता है। नगर के सिद्धपीठ देवी मंदिरों में साल दर साल मनोकामना ज्योति कलश की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जिले के साथ-साथ अन्य जिले व दूसरे राज्य के श्रद्धालु भी मनोकामना के लिए नगर के सिद्धपीठ देवी मंदिरों में ज्योति प्रज्ज्वलित कराते हैं।
चार दिन सर्वार्थ सिद्धि योग का संयोग
मां जगतजननी की साधना और आराधना के लिए विशेष माने जाने वाले चैत्र नवरात्र की शुरुआत आज से हो रही है। वैसे तो नवरात्र के सभी दिन शुभ फलदायी माने जाते हैं। इस बार मातारानी अश्व पर सवार होकर आ रही है। इस दौरान गृह नक्षत्रों के मेल से बन रहे कुछ खास संयोग नवरात्र को और अधिक शुभफलदायी बनाएंगे। नवरात्र में चार दिन सर्वार्थ सिद्धि योग का संयोग रहेगा। इसी प्रकार छह दिन रवि योग रहेगा। नवरात्र के समापन अर्थात राम नवमी के लिए रवि पुष्य योग का महासंयोग रहेगा।
नववर्ष: आज नगर में निकालेंगे भव्य शोभायात्रा व मोटर साइकिल रैली
हिंदू नववर्ष उत्सव को लेकर शहर सजकर तैयार है। चौक-चौराहों और गलियों में भगवा ध्वज व तोरण लगाए जा चुके हैं। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा के पावन अवसर पर आज नगर सहित जिले के समस्त नगर पंचायतों में हिंदू नव वर्ष धूमधाम व उत्साह से मनाया जाएगा।
नगर में ०२ अप्रैल को भारत माता की जयकार व जय-जय श्री राम के जयघोष के साथ महामाया मंदिर परिसर से सुबह ९ बजे भव्य मोटर साइकिल रैली और दोपहर 2 बजे सरस्वती शिशु मंदिर कवर्धा से मातृशक्तियों का स्कूटी रैली निकलेगी। वहीं शाम ४ बजे भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। साथ ही शाम ७.३० बजे एकता चौक पर भारतमाता की महाआरती किया जाएगा। बाइक रैली शहर के विभिन्न वार्डों से होकर गुजरेगी, जिसके स्वागत की तैयारी पहले से की जा रही है। चौक-चौराहों व वार्डों में गलियों को भगवा ध्वज और तोरण से सजाया गया है। इससे पहले हिंदू नववर्ष उत्सव समिति द्वारा एक प्रचार वाहन रथ के रूप में निकाली गई है, जो शहर के साथ ही आसपास गांवों में नववर्ष के स्वागत का आह्वान कर रहे हैं। हिंदू नववर्ष के दिन विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी। इस दौरान भारत माता की झांकी आकर्षण का प्रमुख केंद्र होगा। शोभायात्रा में वाद्ययंत्र, धूमाल, डीजे, रामधुनी मंडली और डंडा नृत्य के धुनों पर झूमते हुए नगर भ्रमण किया जाएगा। शहर में हर वर्ग के लोग नववर्ष का स्वागत करेंगे।
रात्रि में जलाए मंगल दीप
हिंदू नव वर्ष उत्सव समिति ने शहरवासी व जिलेवासियों से पर्व के स्वागत में अपने अपने घरों में रंगोली सजाएं, रात्रि में मंगल दीप जलाने को कहा है। ताकि भारतीय संस्कृति की उत्सव में भागीदारी बन सके। वहीं नगर के युवा तरुणाई, माताएं-बहने, व्यवसायियों, धार्मिक संगठनों में दुर्गा उत्सव समिति, गणेश उत्सव समिति, महिला संगठन, राजनीतिक संगठन के कार्यकर्ताओं को शोभा यात्रा की शोभा बढ़ाने कहा है।
गायत्री शक्तिपीठ में सैकड़ों के बजाए एक अखण्ड मनोकामना ज्योति ही प्रज्ज्वलित
गायत्री शक्तिपीठ में सैकड़ों के बजाए एक अखण्ड मनोकामना ज्योति ही प्रज्ज्वलित

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

कश्मीर में आतंकी हमले में टीवी एक्ट्रेस की मौत, 10 साल के भतीजे पर भी हुई फायरिंगसुरक्षा एजेंसियों ने यासीन मलिक की सजा के बाद जारी किया आतंकी हमले का अलर्टIPL 2022, LSG vs RCB Eliminator Match Result: पाटीदार के दम पर जीता RCB, नॉकआउट मुकाबले में LSG को 14 रनों से हरायाटेरर फंडिंग केस में यासीन मलिक को उम्र कैद की सजा, 10 लाख का जुर्मानायासीन मलिक की सजा से तिलमिलाया पाकिस्तान, PM शहबाज शरीफ, इमरान खान, शाहिद आफरीदी को आई मानवाधिकार की यादAir Force के 4 अधिकारियों की हत्या, पूर्व गृहमंत्री की बेटी का अपहरण सहित इन मामलों में था यासीन मलिक का हाथअमरनाथ यात्रियों को तीन लेयर में मिलेगी सिक्योरिटी, ड्रोन व CCTV कैमरों के जरिए भी रखी जाएगी नजरमहबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा- आप बता दो कि मुसलमानों के साथ क्या करना चाहते हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.