शराबबंदी को लेकर राज्य सरकार की कार्रवाई शुरू, 1 अप्रैल से शराब दुकानों में जड़ दिया जाएगा ताला

शराबबंदी को लेकर राज्य सरकार की कार्रवाई शुरू हो चुकी है। प्रदेश सहित कबीरधाम जिले के भी चिन्हांकित शराब दुकान बंद होंगे।

By: Deepak Sahu

Published: 10 Mar 2019, 12:43 PM IST

कवर्धा . शराबबंदी को लेकर राज्य सरकार की कार्रवाई शुरू हो चुकी है। प्रदेश सहित कबीरधाम जिले के भी चिन्हांकित शराब दुकान बंद होंगे। इसमें पांच शराब दुकान शामिल हैं।

मार्च 2019 की समाप्ति के साथ ही जिले के पांच शराब दुकानों पर हमेशा के लिए ताला जड़ दिया जाएगा। इसमें दो अंग्रेजी और तीन देशी शराब दुकान शामिल हैं। पोंडी व रेंगाखार के अंग्रेजी और पंडरिया, तरेगांव जंगल व चिल्फीघाटी स्थित देशी शराब दुकान को बंद किया जाएगा। यह प्रक्रिया पूर्ण शराबबंदी को लेकर शुरुआती प्रक्रिया है।

लोगों की आदत को छुड़ाने के लिए ही कुछ शराब दुकानों को बंद किया जा रहा है। इसके बाद आने वाले वर्ष में इससे दोगुने शराब दुकानों को बंद किया जाएगा। जिले में कुल 28 शराब दुकान हैं, जिसमें 11 अंग्रेजी और 17 देशी शामिल हैं।

 

ग्रामीणों ने किया था थाना घेराव
जहां पर ग्रामीणों ने मांग रखी या फिर शराब दुकान बंद करने के लिए आंदोलन किया वहां पर शराब दुकानों को बंद नहीं किया जा रहा है। हाल ही में दशरंगपुर स्थित शराब दुकान को बंद कराने के लिए एक दर्जन गांव के करीब 300 ग्रामीणों ने सात किलोमीटर का पैदल मार्च किया और चौकी का घेराव भी। इसके बाद यहां के शराब दुकान को बंद कराने के लिए कोई पहल नहीं की।

यहां भी बंद होने चाहिए
देशी शराब पीने वालों की संख्या अधिक है। वहीं मुख्य मार्ग के आसपास संचालित देशी शराब दुकान के कारण लगातार सडक़ हादसे भी होते रहते हैं। ऐसे में देशी शराब दुकानों को बंद करना अतिआवश्यक है वह भी मुख्य मार्ग के आसपास के। दशरंगपुर, पोड़ी, बोड़ला और लोहारा के शराब दुकान को भी बंद करना आवश्यक है।

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned