छ: माह बाद भी चालू नहीं हुआ नलजल योजना, मुश्किले बढ़ी

छ: माह बाद भी चालू नहीं हुआ नलजल योजना, मुश्किले बढ़ी

Panch Ram Chandravanshi | Publish: Apr, 16 2019 11:54:27 AM (IST) Kawardha, Kabirdham, Chhattisgarh, India

नवंबर में विधानसभा चुनाव के समय ग्रामीणों के मांग पर नलजल योजना के तहत बनाई गई पानी टंकी को चालू किया गया था, लेकिन दो से चार दिन चलने के बाद फिर से बंद पड़ा हुआ है। इसके चलते लोगों को परेशान होना पड़ रहा है।

बरबसपुर. ग्राम पंचायत हरिनछपरा में नलजल योजना के तहत लाखों रुपए खर्च कर पानी टंकी का निर्माण किया गया, लेकिन पाईप लाईन विस्तार का काम अधूरा है। आधे अधूरे काम के चलते इसका लाभ ग्रामीणों को मिलता नजर नहीं आ रहा है। गांव के मुख्य चौराहे पर बना भारी भरकम पानी टंकी सफेद हाथी साबित हो रहा है।
नवंबर में विधानसभा चुनाव के समय ग्रामीणों के मांग पर नलजल योजना के तहत बनाई गई पानी टंकी को चालू किया गया था, लेकिन दो से चार दिन चलने के बाद फिर से बंद पड़ा हुआ है। इसके चलते लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। गर्मी प्रारंभ होते ही ग्रामीण अंचल में पानी समस्या गहराने लगती है। ग्राम हरिनछपरा में इस समस्या से छूटकारा पाने के लिए योजनांतर्गत पानी टंकी निर्माण के साथ घरों तक पाईप लाईन का विस्तार किया जाना था। ताकि ग्रामीणों को पानी की समस्या न हो, लेकिन विभाग के अनदेखी के चलते छह माह बीत जाने के बाद भी इसका लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल पाया है। पानी टंकी का निर्माण कार्य के साथ पाईप लाईन विस्तार का कार्य भी लगभग पूर्ण हो चुका है। केवल रोड़ क्रासिंग के चलते एक मोहल्ले से दूसरे मोहल्ले तक पाईप लाईन नहीं पहुंच पाई है, जिसे छह माह बीत जाने के बाद भी पूर्ण नहीं कराया जा सका है। ऐसे में गांव के मुख्य चौराहे पर बने भारी भरकम पानी टंकी शो-पीस बना हुआ है। कार्य की पूर्णत: के लिए न तो ठेकेदार ध्यान दे रहा है और न ही विभाग के जिम्मेदार अधिकारी। ऐसे में ठेकेदार मनमानी पूर्वक काम को अंजाम दे रहा है। जबकि ग्रामीणों को अभी से ही पानी के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

शिकायतों पर पहल नहीं
आधे अधूरे व धीमी निर्माण को लेकर ग्रामीणों के अलावा पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा कई बार पीएचई विभाग को शिकायत कर चुके हैं। बावजूद जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहा है। शिकायत करने पर ठेकेदार द्वारा दो चार दिन कार्य को आगे बढ़ाता है। इसके बाद माह दो माह तक नजर नहीं आते। इसे लेकर ग्रामीण परेशान हो चुके हैं। साल भर से लोग नलजल योजना के चालू होने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन ग्रामीणों का यह इंतजार अब तक खत्म नहीं हुआ है। अब गर्मी के चलते लोगों को दिक्कते उठाना पड़ रहा है।

60 हजार लीटर की क्षमता वाली पानी टंकी
कवर्धा विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत हरिनछपरा की बसाहट है। फिरहाल ग्रामीण पेयजल के लिए हैण्डपंप पर ही निर्भर है। जबकि यहां नलजल योजना के तहत 60 हजार लीटर की क्षमता वाली पानी टंकी बनाया गया। साथ ही घरों घर पाईप लाईन भी बिछाया जाना है। पानी टंकी का निर्माण पूर्ण हो चुका है, लेकिन साल भर बाद भी पाईप लाईन विस्तार काम पूरा नहीं हा ेपाया है। ऐसे में पानी टंकी सफेद हाथी साबित हो रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned