ओह हो...डिजिटल इंडिया का नेट पैक खत्म

ओह हो...डिजिटल इंडिया का नेट पैक खत्म

Yashwant Jhariya | Publish: Sep, 07 2018 12:47:54 PM (IST) Kawardha, Chhattisgarh, India

74 पंचयतों में नेट लगाया गया। इन पंचायतों में एक वर्ष तक नेट चला, लेकिन अब नेट पैक खत्म हो चुका है, क्योंकि राशि का भुगतान नहीं किया गया।

कवर्धा . प्रदेश व केंद्र सरकार डिजिटल इंडिया के नाम पर लोगों को केवल सपने दिखा रही है। जमीन स्तर पर यहां कुछ भी काम नहीं हो रहा है। दो साल पहले पंचायतों को इंटरनेट से जोडऩे बीएसएनएल को काम सौंपा गया था। कंपनी को सरकार नेट चलाने की राशि तक नहीं दी है।
एक ओर जहां प्रदेश सरकार संचार क्रांति के नाम से लोगों को मोबाईल फोन बांट रही है। वहीं दूसरे ओर पंचायत को इंटरनेट से जोडऩे वाले बीएसएनएल का बिल भुगतान नहीं कर पा रही है। इसके कारण योजना अधर में लटकी हुई है। दो वर्ष पहले पंचायतों में नेट लगाने बीएसएनएल को ठेका दिया गया था। इसके बाद कंपनी ने लोहारा विकासखंड के 74 पंचयतों में नेट लगा दिया। इन पंचायतों में एक वर्ष तक नेट चला भी, लेकिन अब नेट पैक खत्म हो चुका है। जबकि तीन अन्य ब्लाक कवर्धा, बोड़ला व पंडरिया इंटरनेट के लिए काम तक शुरु नहीं हो सका है। ऐसे में प्रधानमंत्री का डिजिटल इंडिया का सपना अधूरा दिखाई दे रहा है।
74 पंचायतों में भी कनेक्शन बंद
भारतीय दूर संचार निगम द्वारा लोहारा विकासखंड के ७४ पंचायतों में इंटरनेट लगाया गया था। एक साल तक यहां नेट चला। शासन ने इन पंचायतों में १४९९ रुपए का इंटरनेट प्लान था। ७४ पंचायत के एक माह का बिल एक लाख १० हजार ९२६ रुपए बना, लेकिन अब तक निगम को इसकी राशि नहीं मिल सकी है। इसके कारण इन पंचायतों में बीएसएनएल ने कनेक्शन बंद कर दिए।

सीएससी केंद्र दिखावा
प्रदेश सरकार लोगों के काम को कम करने के लिए सभी काम ऑनलाईन कर दिए हैं, लेकिन आज भी गांव के लोगों को अपना काम कराने शहर के च्वाइस सेंटर आना पड़ता है। जबकि सरकार ने सभी पंचायतों सीएससी सेंटर खोलने के निर्देश दिए गए। पंचायतों में सीएससी सेंटर का केवल बोर्ड लटका हुआ है पर यहां किसी भी प्रकार का ऑनलाईन काम काज नहीं होता है। क्योंकि पंचायतों में अब तक इंटरनेट ही नहीं लग सका है। यहां तक की पंचायत का काम भी यहां पंचायतों में नहीं होता। सरपंचों को भी ऑनलाईन काम कराने शहर की ओर दौड़ लगानी पड़ती है।
बीएसएनएल के एसडीओ डीके बागड़े ने बताया कि शासन से लोहारा विकासखंड में इंटरनेट लगाने का काम मिला था। लोहारा के ७४ पंचायतों में इंटरनेट लगा चुका है, लेकिन पुराना नेट राशि नहीं मिला है। इसके कारण इस वर्ष इन पंचायतों में इंटरनेट कनेक्शन नहीं दिया गया। कवर्धा, बोडला व पंडरिया में इंटरनेट का काम शुरु नहीं हुआ है।

Ad Block is Banned