महिला के साड़ी पर स्पर्म से हत्यारे युवक तक पहुंची पुलिस, दरिंदे ने पहले किया विवाहिता से बलात्कार, फिर उतार दिया मौत के घाट

विवाहिता से रेप के बाद बात खुलने के डर से महिला की टंगिया से हत्या करने वाले आरोपी को पुलिस ने एक साल बाद गिरफ्तार किया है। (Rape and murder in Kawardha)

By: Dakshi Sahu

Published: 23 Aug 2020, 05:30 PM IST

कवर्धा. विवाहिता से रेप के बाद बात खुलने के डर से महिला की टंगिया से हत्या करने वाले आरोपी को पुलिस ने एक साल बाद गिरफ्तार किया है। थाना भोरमदेव के धारा 302 के प्रकरण में अज्ञात आरोपी को आखिरकार एक साल बाद पकड़ा गया। एक साल से आरोपी पुलिस को चकमा दे रहा था। इसके लिए एक विशेष टीम ही तैयार की गई थी। अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाते हुए मृतिका, पति अभिषेक धुर्वे निवासी ग्राम हरमो(ढोगईटोला टुकड़ा खार) के हत्या करने वाले आरोपी नीलम धुर्वे(24) ग्राम हरमो को शनिवार को गिरफ्तार कर रिमाण्ड में जेल भेजा गया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम ढोगईटोला में रहने वाले मृतिका(26) की हत्या अज्ञात व्यक्ति ने कर दी थी। पुलिस को पड़ोस में रहने वाले नीलम धुर्वे हरमो पर संदेह था। संदेही भी पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार नहीं कर रहा था इसलिए संदेही का डीएनए परीक्षण के लिए भेजा गया। डीएनए रिपोर्ट में संदेही नीलम धुर्वे का मृतिका के कपड़ों में और साड़ी में स्पर्म पाया गया। इसके बाद कड़ाई से पूछताछ पर आरोपी ने हत्या करना स्वीकार किया।

यूं दिया घटने को अंजाम
डीएनए रिपोर्ट के अधार पर पुन: संदेही को पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित टीम द्वारा पुछताछ करने पर आरोपी नीलम धुर्वे ने बताया कि 22 नवंबर 2019 को ***** चराने जंगल की ओर गया था। सुबह 10 बजे अभिषेक की पत्नी मृतिका कौशिल्या बाई डबरी में नहा रही थी, जिसे देखकर पीछे-पीछे उसके घर जाकर अकेला और सुनेपन का फायदा उठाकर महिला से बलात्कार किया। मृतिका के बीच बचाव करने पर झुमा झटकी हुई। महिला बोली यह बात मोबाईल से अपने पति को बताउंगी कहने पर उससे मोबाईल छीन लिया। डर और गुस्से में आकर घर के अंदर रखे टंगिए से मृतिका की गले में मारकर हत्या कर दिया और वहां से भाग निकला। केस को सुलझाने में प्रभारी निरीक्षक केके वासनिक थाना प्रभारी सिंघनपुरी, निरीक्षक आनंद शुक्ला रक्षित केंद्र और थाना भोरमदेव प्रभारी उपनिरीक्षक विजेन्द्र तिवारी, सउनि दीपक सिंह चौहान, प्रधान आरक्षक प्रकाशचंद देवांगन, आरक्षक तोरन चंद्रवंशी, सुल्तान खान, हेमन्त ठाकुर, अनिल साहू, अजयकांत तिवारी, रमेन्द्र साहू, पुरषोतम ठाकुर टीम में शामिल थे।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned