पार्किंग का पैसा बचाने कहीं भी खड़ी कर रहे वाहन

पार्किंग का पैसा बचाने कहीं भी खड़ी कर रहे वाहन

Panch Ram Chandravanshi | Publish: Jan, 16 2019 11:41:44 AM (IST) Kawardha, Kabirdham, Chhattisgarh, India

कलेक्ट्रेट में कई विभागों का कामकाज होता है। यहां दिनभर दूर-दराज से सैकड़ों लोग शासकीय काम लेकर पहुंचते हैं। व्यवस्था के तहत कलेक्ट्रेट कैम्पस के भीतर पेड पार्किंग बनाई गई है, लेकिन पैसा बचाने के फेर में लोग बेपरवाह हो गए हैं।

कवर्धा. पार्किंग का पैसा बचाने के चक्कर में लोग यातायात को ठेंगा दिखा रहे हैं। यह देखने के लिए उन्हें कहीं और नहीं बल्कि जिला कलेक्ट्रेट के बाहर नजर घुमाने की जरुरत है। कलेक्ट्रेट गेट के बाहर गाडिय़ां खड़े किए जा रहे हैं।
जिला कलेक्ट्रेट में जहां कलक्टर से लेकर कई विभागीय अफसर बैठते हैं। यहां सबसे बदहाल व्यवस्था पार्किंग की है। कलेक्ट्रेट गेट के बाहर ही मनमर्जी से गाडिय़ां खड़े किए जा रहे हैं। रोजाना गेट के बाहर खड़ी दर्जनों मोटर साइकिलें यातायात को मुंह चिढ़ा रहे हैं। जिला कलेक्ट्रेट की मौजूदा स्थिति को देखकर अंदाजा लगाना मुश्किल हो जाता है कि यह जिले का सबसे बड़ा कार्यालय है। गौरतलब है कि कलेक्ट्रेट में कई विभागों का कामकाज होता है। यहां दिनभर दूर-दराज से सैकड़ों लोग शासकीय काम लेकर पहुंचते हैं। व्यवस्था के तहत कलेक्ट्रेट कैम्पस के भीतर पेड पार्किंग बनाई गई है, लेकिन पैसा बचाने के फेर में लोग बेपरवाह हो गए हैं। बेपरवाही में वे यह भी भूल गए हैं कि यहां जिले के सबसे बड़े अधिकारी कलक्टर भी बैठते हैं। ऐसे लोगों को तो केवल अपने पैसा बचाने से मतलब है, परेशानी चाहे कोई भी हो। इस रास्ते से होकर तमाम पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी कलेक्ट्रेट पहुंचते हैं। रोज आते-जाते अधिकारियों की नजर गेट के बाहर बेतरतीब खड़े मोटर साइकिलों पर पड़ती है। बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं की जाती।

छोटी पड़ रही पार्किंग
कलेक्ट्रेट परिसर के भीतर पेड पार्किंग जोन बना हुआ है, जो छोटी पड़ रही है। कार्यालय में रोजाना शासकीय कामकाज के लिए सैकड़ों लोग पहुंचते हैं। पार्किंग शेड गाडिय़ों से लबालब हो जाती है। कुछ तो पार्किंग शेड के बाहर ही जहां-तहां बाइक खड़ी कर देते हैं, जिससे लोगों को आने-जाने में परेशानी होती है। विडंबना तो यह है कि इस दिन कोई यातायात पुलिस भी वहां व्यवस्था सुधारने के लिए तैनात नहीं किए जाते।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned