ईंट भट्ठों के कारण प्रदूषित हो रही जीवनदायिनी नदियां, कवर्धा में शुरू हुई पानी की समस्या

ईंट भट्ठों के कारण प्रदूषित हो रही जीवनदायिनी नदियां, कवर्धा में शुरू हुई पानी की समस्या

Deepak Sahu | Publish: Mar, 14 2018 12:33:13 PM (IST) Kawardha, Chhattisgarh, India

सकरी नदियों के किनारे बनाये गए ईंट भट्ठों के कारण शहर में पानी की कमी हो रही है

कवर्धा . सकरी नदी को पुन: प्रवाहित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सृजन अभियान की शुरुआत की है। लेकिन जब तक नदी किनारे ईंट भट्ठों का नहीं हटाया जाएगा, तब तक प्रशासन की सारी तैयारी बेकार है।
ग्राम छपरी से लेकर कवर्धा से गुजरते तक सकरी नदी को जगह-जगह से रोक दिया गया है।

इस पानी को मोटर पंप के जरिए नदी के दोनों ओर मौजूद करीब दो दर्जन से अधिक ईंट भट्ठों तक पहुंचाया जा रहा है। इसके चलते ही कवर्धा तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। ऐसे में शासन-प्रशासन योजना बनाकर नदी में काम भी करना चाहे तो भी पानी नहीं सकता। इसके लिए सबसे पहले इन ईंट भट्ठों को बंद कराना होगा। व्यवस्था ऐसी बनानी होगी कि नदी किनारे न ईंट भट्ठा हो और न नदी के पानी का दोहन कर सके। इसके बाद भी प्रशासन की योजना सफल हो सकती है।

टीम ने पाया, उद्गम स्थल पर पानी
आईआईटी कानपुर के पृथ्वी विज्ञान विभाग प्रमुख डॉ.राजीव सिन्हा अपनी टीम के साथ कवर्धा पहुंचे। वह सकरी नदी के बहाव क्षेत्र का अध्ययन अत्याधुनिक ड्रोन कैमरे से कर रहे हैं। डॉ. सिंहा ने बताया कि सकरी नदी के उद्गम स्थल पर तो पानी का प्रभाव है, किन्तु नीचे ओर पानी नहीं है।

18 पंचायतों में करेंगे काम
सृजन अभियान के तहत सकरी नदी के दोनों किनारों पर बसे 18 ग्राम पंचायतों के क्षेत्र में कार्य किए जाएंगे। सकरी नदी के उद्गम स्थल से लेकर इसके बहाव क्षेत्र का सूक्ष्मता से अध्ययन करने के लिए तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है।

नदी पर बिन्दुवार चर्चा की
जिला पंचायत सभाकक्ष भवन में आयोजित कार्यशाला में बिन्दुवार इस पर चर्चा की गई। ड्रोन से लिए गए तस्वीर को प्रस्तुती करण के माध्यम से जिले के जल संसाधन, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा व संबंधितों को सकरी नदी के बहाव क्षेत्र में हुए बदलाव के संबंध में विस्तार से बात की।

सकरी नदी पर एक नजर...
नदी का एक मात्रजल प्रपात - दुरदुरी
उद्गम की समुद्री सतह से ऊंचाई - 888 मीटर
जल प्रपात की ऊंचाई - 27 फीट
शहर तक नदी की लंबाई - 47 किमी
कबीरधाम जिले में बहाव क्षेत्र - 83 किमी
नदी की कुल यात्रा - 90 किमी
संकरी कछार स्थित ग्राम - 40
ग्राम छपरी से समनापुर तक टूट जाती है धार

Ad Block is Banned