तिरंगा के रंग में रंगा स्टेडियम, झांकियों में महिला सुरक्षा और स्वच्छ भारत का दिया संदेश

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस का पर्व स्टेडियम मैदान में धूमधाम से मनाया गया। यहां मौजूद हर शहरवासी तिरंगे के रंग में रंगा नजर

खंडवा. गणतंत्र दिवस समारोह शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में धूमधाम से मनाया गया। सिविल लाइन स्थित स्टेडियम मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में कलेक्टर अभिषेक सिंह ने ध्वजारोहण किया। साथ ही परेड की सलामी ली। इस दौरान जहां स्कूली बच्चों की देशभक्ति गीतों पर ऊर्जावान प्रस्तुतियों ने कार्यक्रम का समां बांधा। वहीं अलग-अलग विषयों पर तैयार की गई झांकियों ने लोगों का मन मोह लिया। 26 जनवरी की गणतंत्र दिवस परेड में शासकीय विभागों की ओर से करीब 1५ झांकियों का प्रदर्शन किया गया। इनमें पुलिस विभाग की झांकी ने लोगों को महिला सुरक्षा और महिला सशक्तिकरण को प्रोत्साहित किया। मुख्य कार्यक्रम के पहले सभी कार्यालयों में तिरंगा फहराया गया। इससे पहले सभी कार्यालयों में कार्यालय प्रमुख तिरंगा फहराकर मुख्य कार्यक्रम में शरीक हुए। इधर, बता दे कि गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण के पहले तीन बार जिम्मेदारों को तिरंगे को बांधने का कार्य किया गया।
तीन रंग में रंगी जिप्सी पर सवार हुए बच्चे
इधर, गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम के दौरान मैदान में तीन रंगों से रंगी तीन जिप्सी उतरी। इस जिप्सी में पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों को बच्चे सवार थे। इन बच्चों में वह बच्चे शामिल थे जिन्होंने ने शिक्षा, खेल सहित अन्य गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया हो। जिप्सी पर महिला पुलिसकर्मी भी मौजूद रही। इस दौरान बच्चों से गुब्बारे उठाकर भारत माता के जयकारे लगाए। इस दृश्य ने स्टेडियम में मौजूद हर शहरवासी को मंत्रमुग्ध कर दिया।
मधली पालन को दिया बढ़ावा, योगा से रहे सेहदमंद
कार्यक्रम में शासकीय विभागों ने अलग-अलग विषयों पर झांकियां तैयार की। इसमें पुलिस विभाग ने महिला सम्मान, सुरक्षा, स्वरक्षा अभियान के तहत झांकी बनाई। जिसमें ताइक्वाडो का प्रदर्शन करते हुए बालिकाएं चल रही थी। इसमें महिला सशक्तिकरण और महिला सुरक्षा का संदेश दिया। इसके अलावा ग्रामीण व सिंचाई जलाशयों में पंगेशियम कल्चर मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए झांकी बनाई गई। कन्या आश्रम ने योगा के प्रति लोगों को प्रोत्साहित किया। नगर निगम ने स्वच्छता अभियान का संदेश दिया। साथ ही डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन की बात रखी। लोकसेवा की जानकारी के साथ ही प्रकृति को बचाने का संदेश दिया गया।

गणगौर नृत्य ने प्रस्तुति की निमाड़ की संस्कृति
कार्यक्रम के दौरान मैदान में 12 से अधिक स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों प्रस्तुति दी गई। इसमें गणगौर नृत्य की प्रस्तुति देखकर निमाड़ की संस्कृति को जीवंत किया। इसके अलावा देशभक्ति गीतों पर ऊर्जावान प्रस्तुति दी गई। बार्डर पर वीर सिपाई की लड़ाई और भारत माता की रक्षा में तैनात सेना के स्वरूप को भी दिखाया गया।
उत्कृष्ट कार्य करने वाले हुए सम्मानित
इधर, गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में शहर सहित जिले के उत्कृष्ट कार्य करने वाले शासकीय अधिकारी, कर्मचारी सहित जिलेवासियों को अतिथियों ने प्रशस्त्रि पत्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान कलेक्टर अभिषेक सिंह, एसपी नवनीत भसीन, जिला पंचायत सीईओ मिश्रा, एएसपी महेंद्र तारणेकर सहित अन्य अधिकारी और जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

जितेंद्र तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned