MP: 60 साल के आश्रम संचालक ने दो छात्राओं से किया दुष्कर्म

sanjay dubey

Publish: Nov, 15 2017 10:16:27 (IST)

Khandwa, Madhya Pradesh, India
MP: 60 साल के आश्रम संचालक ने दो छात्राओं से किया दुष्कर्म

मध्यप्रदेश के खंडवा में नि:शक्त आश्रम संचालक ने आश्रम की ही छात्रा 13 साल की और बड़ी बहन 15 साल को हवस का शिकार बनाया। अब सलाखों के पीछे है।

खंडवा. शहर के स्टेडियम के पास सरकारी जमीन पर कब्जा कर नि:शक्त आश्रम में ६० साल के संचालक पूनमचंद मालवीया ने दो सगी बहनों से दुष्कर्म किया। उन्हें अच्छा खाना देने का लालच दिया और अपनी हवस का शिकार बनाया। जैसे-तैसे बड़ी बहन १५ साल आश्रम का गेट फांदकर पुलिस थाने पहुंची और संचालक की घिनौनी हरकत बताई। पुलिस ने आरोपी आश्रम संचालक को गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट में पेश उसे जेल भेजा है।

छात्राओं की जुबानी, गंदे अंकल की पूरी करतूत
बालकराम चौधरी ने कहा बालिकाओं ने हमें बताया कि पूनमचंद उनके साथ गलत काम करता था। यही नहीं गलत नीयत लिए आश्रम में बाहरी लोग भी आते थे। बालिकाओं ने भी पूनमचंद की करतूतें बताई। उन्होंने कहा अंकल गंदे थे। दारू पीकर गाली बकते थे। इधर-उधर हाथ लगाते थे। उनकी बात नहीं मानो तो मारते थे। ऐसा वे बहुत दिन से कर रहे थे। मंगलवार को कोतवाली पुलिस ने प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट रंजीता सोलंकी की अदालत में बयान कराने के बाद बालिकाओं को उनके पिता और गांव से आए जिम्मेदारों को सौंप दिया।

हवस का शिकार बनाने के पहले एेसे फंसाया मां-बाप को
आश्रम में मानसिक निशक्त 13 साल की किशोरी व उसकी 15 साल की बहन से दुष्कृत्य करने वाला 60 वर्षीय आश्रम संचालक पूनमचंद मालवीय बालिकाओं के माता-पिता की तलवडिय़ा स्थित जमीन बेचकर रुपए हड़पना चाहता था। इसके लिए वे उनके माता-पिता को पेंशन दिलाने का झांसा देकर खंडवा स्थित आश्रम ले आया था। यही नहीं उनके घर में रखा अनाज और जमीन की पावती भी उठा लाया था। जमीन बेचने की बात पता चलते ही ग्रामीणों ने उसे ऐसा करने से रोका तो उसने उन्हें भी बरगलाया। कहा जमीन बेचकर इनके नाम से रुपए जमा करूंगाए लेकिन ग्रामीण उसकी चाल समझ गए और जमीन नहीं बेचने दी।

परिजन ले गए अन्य छात्राओं को आश्रम से
आश्रम में बालिकाओं के साथ गलत होने की खबर लगते ही मंगलवार को गांव के जिम्मेदार उन्हें घर ले जाने पहुंचे। गांव के बालकराम चौधरीए सरपंच पति कैलाश पटेलए जनपद सदस्य मोहनलाल गोलकर और मांगीलाल पटेल ने भास्कर के सामने पूनमचंद मालवीय के कच्चे चि_े खोले। उन्होंने बताया पूनमचंद बालिकाओं के माता.पिता की गरीबी का फायदा उठाकर उन्हें पढ़ाने.लिखानेए बेहतर परवरिश और बाद में शादी तक कराने का झांसा देकर दोनों बालिकाओं को आश्रम ले आया था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned