सोयाबीन व मक्का के टीनशेड में होगी कपास उपज की नीलामी

हादसे रोकने मंडी प्रबंधन ने यह उपाय

 

 

खंडवा. कृषि उपज मंडी में सोयाबीन व मक्का के टीनशेड में कपास की नीलामी की। बुधवार से नए स्थान पर कपास की नीलामी शुरू की जाएगी। मंडी में हो रहे सीसी निर्माण स्थल पर हादसा रोकने के लिए मंडी प्रबंधन ने यह निर्णय लिया है। साथ ही निर्माण स्थल पर वाहन न जाए। इसके लिए मिट्टी डाल व बैरिकेडिंग कर रास्ता बंद किया जाएगा।

कृषि उपज मंडी में कपास और मक्का के टीनशेड के बीच में 2.72 करोड़ रुपए से सीसी निर्माण के लिए खुदाई कार्य किया जा रहा है। खुदाई होने के चलते टीनशेड के पास ऊबड़-खाबड़ स्थिति है। वहीं कपास की आवक भी मंडी में अधिक हो रही है। इससे बड़ी संख्या में ट्रैक्टर-ट्रॉली, ट्रक व फोर-व्हीलर वाहन आ रहे। किसान नीलामी के लिए अपने वाहन को कपास के टीनशेड में खुदाई वाले साइड खड़े कर रहे थे।

टीनशेड के पास समतल जगह नहीं होने से वाहन खड़े करते या निकालते समय पलटने एक तरफ ज्यादा झुक रहे थे। रोजाना कई वाहनों के साथ ऐसी स्थिति बन रही थी। सोमवार को कपास से भरी एक ट्रॉली पलट गई थी, जिससे बड़ी दुर्घटना का अंदेशा बना हुआ था। पत्रिका में 7 फरवरी और 11 फरवरी को मंडी में आ रही कपास के किसानों की समस्या को प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया। इसके बाद मंगलवार शाम को मंडी सचिव दिलीप नागर ने सोयाबीन और मक्का के टीनशेड में कपास की नीलामी कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा सोयाबीन- मक्का की नीलामी अस्थायी तौर पर गेहूं -चना के टीनशेड में होगी। कपास की आवक कम होने पर वापस उसी स्थान पर शेड में सोयाबीन-मक्का की नीलामी होने लगेगी।

दूसरे दिन भी खड़े रहे कपास से भरे वाहन
मंडी में कपास की आवक अधिक होने से मंगलवार को बड़ी संख्या में कपास से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली, फोर-व्हीलर वाहन टीनशेड में निर्माणस्थल वाले साइड की ओर खड़े थे। ये वाहन ऊंची-नीचे स्थान पर खड़े थे, जिससे किसानों को भारी परेशानी हुई। जामकोटा के किसान जयसिंह, जितेंद्र सिंह ने बताया कि कपास का सीजन चल रहा है तो मंडी प्रबंधन को यह निर्माण कार्य कुछ माह बाद चालू करना था। ताकि किसान ऐसी परेशानी से बच जाते।

Show More
dharmendra diwan Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned