आरोप- धर्म देखकर दी जा रही योजना की राशि

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में हो रहा हितग्राहियों से भेदभाव
-जिला पंचयात सदस्य ने लगाया आरोप निकाह योजना में नहीं हो रहा भुगतान
-6 माह के बच्चे को लेकर पहुंचीं हितग्राही, कहा डेढ़ साल से लगा रहे चक्कर

खंडवा.
सामाजिक न्याय विभाग द्वारा मुख्यमंत्री विवाह/निकाह कन्यादान योजना में हितग्राहियों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में विवाह करने वाले हितग्राहियों को कन्यादान की राशि दी जा रही है, लेकिन निकाह योजना के हितग्राहियों को भुगतान नहीं किया जा रहा है। बुधवार को सामाजिक न्याय विभाग में निकाह योजना के हितग्राही के साथ पहुंचे जिला पंचायत सदस्य ने ये आरोप लगाए हैं।
पिछले दो साल से मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के करीब 18 सौ से ज्यादा हितग्राही योजना अंतर्गत मिलने वाली 51 हजार रुपए की राशि के लिए भटक रहे थे। अब आयोजनांतर्गत विवाह करने वाले हितग्राहियों के खातों में राशि आना शुरू हुई है। जिला पंचायत सदस्य रणधीर कैथवास ने आरोप लगाया है कि भाजपा सरकार द्वारा योजना में भेदभाव किया जा रहा है। जिले में लगभग दो सौ से ज्यादा जोड़ों ने योजना के तहत निकाह किया था। जिन्हें ये लाभ नहीं दिया जा रहा है। योजना के तहत करीब 10 करोड़ रुपए की राशि का आवंटन भी हो चुका हैं, लेकिन इसके बाद भी हितग्राहियों के खातों में राशि नहीं स्थानांतरित की जा रही है।
डेढ़ साल से भटक रहे हितग्राही
बुधवार को सामाजिक न्याय विभाग पहुंचीं सोना खान ने बताया कि उनका निकाह योजना के तहत 21 जून 2019 में हुआ था। उनका पुत्र भी 6 माह का हो गया है, लेकिन पिछले डेढ़ साल से योजना की राशि उन्हें नहीं मिल पाई है। शहर में सामूहिक विवाह आयोजनकर्ता शफीक खान ने बताया कि उन्होंने अलग-अलग तिथियों में वर्ष 2019 में सामूहिक विवाह/निकाह कराए थे। जिसमें से विवाह योजना के हितग्राहियों को अब लाभ मिलना शुरू हुआ है। निकाह योजना के 49 हितग्राहियों को अभी लाभ नहीं मिला है। इस मामले में सामाजिक न्याय विभाग का कहना है कि राशि अभी आई हैं, धीरे-धीरे कर सभी हितग्राहियों के खातों में डाली जा रही है।

Show More
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned