बिहारी गैंग बुजुर्गों को झांसा देकर ले भागते थे जेवर

-दिनदहाड़े सिंधी कॉलोनी में सोने के जेवर लेकर भागे आरोपी पुलिस गिरफ्त में
-अंतरराज्यीय गिरोह ने गुजरात में भी दिया था घटनाओं को अंजाम
-बुरहानपुर से पकड़े चार आरोपी, एक आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर

खंडवा.
सोने-चांदी के बर्तन, जेवर चमकाने के नाम पर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह को पकडऩे में मोघट पुलिस ने सफलता हासिल की है। गिरोह द्वारा खंडवा की सिंधी कॉलोनी में दिनदहाड़े जेवर लेकर भागने की घटना को अंजाम दिया गया था। आरोपियों द्वारा छोड़ी गई बाइक के आधार और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने चार आरोपियों को बुरहानुपर से गिरफ्तार किया है। एक आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है। पुलिस ने चोरी किया गए जेवर भी आरोपियों से बरामद किए है।
बुधवार शाम को पुलिस कंट्रोल रूम में एएसपी सीमा अलावा ने पूरे मामले का खुलासा किया। एएसपी ने बताया कि 7 जुलाई को दो आरोपियों द्वारा सिंधी कॉलोनी निवासी बुजुर्ग बिनवानी दंपति को बर्तन चमकाकर दिखाए थे। जिसके बाद दंपति को झांसे में लेकर सोने के जेवर चमकाने के लिए बुलवाए और दो सोने के कंगन, अंगूठी, चेन पेंडल लेकर भाग निकले थे। रास्ते में शिक्षक नगर के पास बाइक छोड़कर पैदल ही गलियों के रास्ते भाग निकले थे। पुलिस ने जयराम बिनवानी की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की थी। पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने एएसपी सीमा अलावा के निर्देश में सीएसपी ललित गठरे, टीआइ मोघट बीएल अटोदे को जांच के निर्देश दिए थे।
बुरहानपुर से किया गिरफ्तार
घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल तथा सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस टीम संभावित स्थानों पर रवाना हुई। मुखबिर सूचना के आधार पर बुरहानपुर से चार संदिग्ध बमबम शाह पिता श्याप प्रसाद शाह निवासी लक्ष्मीपुर थाना बरारी जिला कटिहार, जगन्नाथ शाह पिता छेदीशाह निवासी अलीगंज जिला भागलपुर बिहार, विजेन्द्र पिता प्रदीप शाह निवासी लक्ष्मीपुर जिला कटिहार बिहार और श्रवण पिता प्रवीण शाह निवासी लक्ष्मीपुर जिला कटिहार बिहार को अभिरक्षा में लिया गया। आरोपियों से पूछताछ पर उक्त जुर्म करना स्वीकार किया।
बैंगलोर भागे थे घटना के बाद
आरोपियों ने बताया कि वे चारों अपने साथी देवेंद्र शाह जो वर्तमान में फरार है, के साथ खंडवा आए थे तथा उक्त घटना करने के बाद सोना लेकर बैंगलोर भाग गए थे। यहां पांचों ने आपस सोने को बांट लिया। आरोपी देवेंद्र उर्फ देवी अपने हिस्से का सोने का पैंडल लेकर वर्तमान में फरार है। आरोपी बमबम शाह तथा देवेंद्र उर्फ देवी ने सिंधी कॉलोनी की घटना को अंजाम दिया था। तीन अन्य आरोपी घटना के दौरान आसपास ही मौजूद थे। आरोपियों ने बताया कि जून माह में उन्होंने वडोदरा गुजरात में इस प्रकार की दो वारदातें की है। आरोपियों की गिरफ्तारी में निरीक्षक ब्रजभूषण हिरवे टीआइ अजाक, एसआइ उमेश कुमार, राम प्रकाश यादव, प्रआर महेंद्र वर्मा, आर नितिन कोल्हे, कुणाल ज्ञानी तथा राजीव यादव, जितेंद्र राठौर तथा सुनील लांडगे सायवर सेल की सराहनीय भूमिका रही।

Show More
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned