Pawan Express से 2 करोड़ रुपए नगद लेकर भाग रहे थे बिहारी दो, मुंबई के बिजनेसमैन से धोखाधड़ी

जीआरपी, आरपीएफ की मदद से खंडवा में पकड़ा, आज खंडवा पहुंचेगी मुंबई क्राइम ब्रांच

खंडवा. पवन एक्सप्रेस के एसी कोच से दो करोड़ रुपए के साथ पकड़ाए बिहार के दोनों युवक एक बिजनेस मैन से धोखाधड़ी करके दरभंगा भाग रहे थे। गुरुवार को मुंबई क्राइम ब्रांच यहां आएगी और आरोपियों को गिरफ्तार करेगी।

पवन एक्सप्रेस से पकड़े गए विनोद झा पुत्र राजकुमार झा निवासी बदेही दरभंगा बिहार और अमित कुमार यादव श्री चांदी यादव निवासी बदेरी दरभंगा बिहार एसी प्रथम श्रेणी के कोच में यात्रा कर रहे थे। दोनों को पकडऩे में आरपीएफ इंस्पेक्टर महेंद्र कुमार खोजा, प्रवीण मालवीय, कांस्टेबल रमन बावने, दीपक, जीआरपी एएसआइ भोलाराम बघेल, सुरेश जायसवाल, प्रधान आरक्षक रामदास वर्मा, नंदकिशोर, आरक्षक संदीप मीणा, पुष्पेंद्र धाकड़, सुरेश, शिवशंकर शामिल रहे।

मुंबई में हो रही है एफआइआर
इसकी एफआइआर मुंबई के थाणे स्थित नगर पुलिस स्टेशन में फरियादी अक्षय अनंत परवणी निवासी मलाड़ा की शिकायत पर आईपीसी की धारा 420, 406, 34 के तहत अपराध दर्ज हुआ। मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट वन के सीनियर टीआई नितिन ठाकरे मामले की जांच कर रहे हैं।

गत वर्ष भी जीआरपी ने पकड़े थे 3 करोड़
खंडवा जीआरपी, आरपीएफ ने पिछले वर्ष 2019 में महानगरी एक्सप्रेस से 3 करोड़ रुपए लूट कर ले जा रहे आरोपियों को पकड़ा था।

कुशीनगर से आएगी क्राइम ब्रांच
मुंबई क्राइम ब्रांच की सूचना पर खंडवा जीआरपी, आरपीएफ ने बड़ी सफलता पाई है। मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट वन के सीनियर टीआई नितिन ठाकरे, सब इंस्पेक्टर दत्ता शरद, कांस्टेबल रवींद्र काटकर, रिजवान सैयद, आरक्षक राहुल पवार बुधवार रात को मुंबई से रवाना हो गए है। गुरुवार सुबह 9 बजे कुशीनगर एक्सप्रेस से खंडवा पहुंचेगी।

नोट गिनने के बाद बैग किया सील
पुलिस ने आरोपियों को उतार जीआरपी थाने ले आई। पुलिस ने बैग में मिले नोटों की गिनती की। करीब एक घंटे का वक्त जीआरपी, आरपीएफ को नोट गिनने में लगा। जिसके बाद बैग में रूपए वापस रख सील किया गया। आरोपियों को हिरासत में लेकर लॉकअप में रख दिया है। नोटों से भरे बैग को जीआरपी थाना प्रभारी के कक्ष में रख ताला लगा दिया है।

dharmendra diwan Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned