मांधाता के 'वार' में प्रत्याशियों को मतगणना से 'मंगल' आस, जनता के नारायण या उत्तमपाल, 5 घंटे में आ जाएंगे परिणाम

मांधाता विधानसभा उपचुनाव के लिए मतगणना आज...सबसे पहले डाकमत पत्रों की होगी गिनती- करीबी रहा मुकाबला तो नतीजे आने में हो सकती है देरी, दोनों दलों ने मतगणना को लेकर की है तैयारी, पार्टियों के कई वरिष्ठ नेताओं ने निर्दलीय प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं के रूप में बनवाए हैं मतगणना पास

खंडवा. आजादी के बाद इतिहास में पहली बार मांधाता विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए हैं। जनता का फैसला इवीएम में बंद हैं।

10 नवंबर मंगलवार को मांधाता विधानसभा उपचुनाव के लिए मतगणना होगी। सुबह 8 बजे से सबसे पहले डाकमत पत्रों की गिनती की जाएगी। इसके बाद मशीनों में कैद वोटों की काउंटिंग होगी। 21 राउंड में होने वाली मतगणना से तय होगा कि जनता ने कांग्रेस छोड़ भाजपा में गए नारायण पटेल पर फिर विश्वास जताया है या फिर पूर्व विधायक राजनारायण सिंह पुरनी की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ाने पहली बार कांग्रेस के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरे उत्तमपालसिंह पुरनी को जनता ने पसंद किया है, इसका फैसला दोपहर 1 बजे तक हो जाएगा। विधानसभा चुनाव-2018 की तरह मुकाबला नजदीकी रहा तो फिर परिणाम आने में देरी हो सकती है। दोनों दलों ने इसकी तैयारी कर रखी है। भाजपा के जिला प्रवक्ता सुनील जैन सहित पार्टियों के कई वरिष्ठ नेताओं ने निर्दलीय प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं के रूप में मतगणना पास बनवाए हैं, ताकि ये मतगणना कक्ष की गतिविधियों पर दोहरी नजर रख सके। भाजपा व कांग्रेस के अलावा बसपा से जितेंद्र वासुंदे व निर्दलीय के रूप में अकरम खान (कप प्लेट), अनारसिंह आदिवासी (कम्प्यूटर), गजराजसिंह (बल्लेबाज), राव जितेंद्र सिंह (गन्ना किसान), शेख जाकिर सिपाही (चाबी) भी मैदान है। नोटा के वोट भी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं।

ब्राउजर
08 बजे सुबह से शुरू होगी मतगणना
02 कमरों में 7-7 टेबलों पर मतगणना होगी
21 राउंड में मतगणना से तय होगी जीत-हार
1.50 लाख से अधिक मतदाताओं ने किया है मतदान
1236 वोट से जीत-हार विधानसभा चुनाव-2018 में हुई थी

मतदान की स्थिति के बारे में यहां जानिए
- 102073 पुरूष मतदाताओं में 79494 ने मतदान किया।
- 94910 महिला मतदाताओं में से 70532 ने मतदान किया।
- 196986 कुल मतदाताओं में से 150028 ने मतदान किया।
- 76.16 प्रतिशत कुल मतदान हुआ है मांधाता विधानसभा उपचुनाव में।

ये रहेगी प्रवेश प्रक्रिया
- खंडवा-सिहाड़ा मार्ग पर आइटीआइ कॉलेज के सामने बैरिकेडिंग की जाएगी।
- डाइट, शिक्षा महाविद्यालय व स्कूल के सड़क के मुख्य मार्ग पर पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।
- शिक्षा महाविद्यालय के कैंपस में पेड काउंटर पर चाय, नाश्ता, पूरी-सब्जी पैकेट, भोजन, पानी की बोतल उपलब्ध रहेगी।
- डाइट के मुख्य प्रवेश द्वार से मतगणना अभिकर्ता व अभ्यर्थी सहित वीआइपी एंट्री रहेगी।
- शा. उमावि आनंदनगर वाले रास्ते से गणना पर्यवेक्षक, सहायक, सूक्ष्म प्रेक्षक, अन्य व्यवस्था अधिकारी-कर्मचारी व मीडिया की एंट्री रहेगी।
- स्कूल के सामने वाले डाइट के हॉल को मीडिया कक्ष बनाया गया है।
- डाइट छात्रावास गेट के पास मोबाइल काउंटर रहेगा, जबकि परिसर में शासकीय भोजनशाला की व्यवस्था की गई है।

ऐसा पहली बार...
- कोरोना संक्रमण काल में सोशल डिस्टेङ्क्षसग के लिए 7-7 टेबल दो हॉल में लगाई। प्रत्येक हॉल की प्रत्येक राउंड से की गई दो टेबल की मतगणना की जांच आयोग प्रेक्षक द्वारा की जाएगी।
- पहले डाक मतपत्रों की मतगणना पूरी नहीं होने पर इवीएम की मतगणना का अंतिम राउंड रोक दिया जाता था। इस बार यह नियम हटा दिया गया है। डाक मतपत्रों व इवीएम की मतगणना लगातार चलती रहेगी।
- मतगणना में ऐसी मशीनें जिनका कंट्रोल यूनिट डिस्प्ले नहीं कर रहा है तो ऐसी मशीनों को रिटर्निंग अधिकारी द्वारा एक तरफ रखा जाकर बाकी मशीनों की मतगणना जारी रहेगी।
- यदि प्रत्याशियों की जीत-हार का अंतर डिस्प्ले नहीं होने वाली कंट्रोल यूनिट के मतों से अधिक है तो उसे मतगणना में नहीं लिया जाकर परिणाम घोषित किया जाएगा। अंतर कम या बराबर होने पर मतों की गणना वीवीपैट से की जाएगी।

सेनेटाइजर की रहेगी व्यवस्था, सीसीटीवी की रहेगी नजर
मतगणना केंद्र पर सेनेटाइजर की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जाएगी व कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। मतगणना के पूर्व अभ्यर्थियों की उपस्थिति में स्ट्रांग रूम खोला जाएगा। स्ट्रांग रूम खोलने, मशीनों को निकालते समय कॉरिडोर व मतगणना कक्ष का लगातार सीसीटीवी कवरेज होगा। मतगणना के बाद मेन्डेटेरी वीवीपैट की गणना में रेंडमली चयनित 5-5 वीवीपैट की स्लिप की भी गणना कर सत्यापन किया जाएगा।

अमित जायसवाल Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned