scriptCase filed against watchman including hostel superintendent | चार ब​च्चियों की मौत का मामला: साध्वी ऋतम्भरा की आश्रम अधी​क्षिका पर गैर इरादतन हत्या का केस | Patrika News

चार ब​च्चियों की मौत का मामला: साध्वी ऋतम्भरा की आश्रम अधी​क्षिका पर गैर इरादतन हत्या का केस

साध्वी ऋतम्भरा के परम शक्ति पीठ आश्रम का मामला, पीडि़त परिजनों के उग्र होने पर दर्ज हो सकी एफआइआर

खंडवा

Published: August 02, 2022 10:22:46 pm

खंडवा. साध्वी ऋतम्भरा के परम शक्ति पीठ आश्रम की चार बच्चियाें नहर में डूबने से मौत के मामले में छात्रावास अधीक्षिका और यहां के चौकीदार को आरोपी बनाया गया है। इन दोनों के खिलाफ मांधाता थाना पुलिस ने आइपीसी की धारा 304ए के तहत गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है। घटना के तीन महीने बीत जाने के बाद जब पीडि़त परिवार उग्र हुए और प्रदर्शन करना पड़ा तब जाकर पुलिस हरकत में आई और केस दर्ज कर कार्रवाई को आगे बढ़ाया है।
यह है मामला
20 अप्रैल की सुबह करीब 6 बजे 11 बच्चियां आश्रम के पीछे नर्मदा नहर में नहाने के लिए निकलीं। इनमें वैशाली पिता नवल सिंह निवासी ग्राम बडि़या, तहसील भीकनगांव जिला खरगोन, प्रतिज्ञा पिता छमिया निवासी ग्राम दाभड़ तहसील सनावद जिला खरगोन, दिव्यांशी पिता चेतन निवासी इंदरपुर रहतिया तहसील राजपुर जिला बड़वानी, अंजना पिता रमेश निवासी ग्राम सोनवाड़ा पोस्ट बमनाला तहसील भीकनगांव जिला खरगोन की नहर में डूबने से मौत हो गई थी।
दबाव में थे पुलिस अफसर
घटना के बाद से ही फरियाद लेकर पीडि़त परिजन रमेश सिंह, नवल सिंह वर्डे, चेतन सिंह सोलंकी, छमिया कनासे समेत अन्य का भटकते रहे। पुलिस इनके आवेदन पर नजर फेरने के बाद मामले को टालती रही। तीन महीने पूरे बीतने के बाद 21 जुलाई को जिला मुख्यालय पहुंचे पीडि़तों में अंजू सोलंकी निवासी इंद्रपुर ने कबताया था कि न्याय पाने अधिकारियों की चौखट पर बार बार आते हैं, लेकिन सुनवाई नहीं होती। इस बार सभी ने धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी थी।
अधीक्षिका को नहीं बचा सका प्रबंधन
पीडि़त परिजनों का सीधा आरोप आश्रम की हाॅस्टल अधीक्षिका पूनम सिंह पर था। आश्रम की ओर से पूनम को बचाने के तमाम प्रयास किए गए। पुलिस पर बाहरी दबाव भी बनाकर रखा, लेकिन एक समय तक ही पुलिस मामले को रोक पाई। छात्रावास अधीक्षिका पूनम सिंह ने बच्चियों की सुरक्षा में लापरवाही बरती और उन्हें नहाने के लिए नहर में भेजा। जबकि चौकीदार बिहारी यादव को इसलिए आरोपी बनाया कि उसने सुरक्षा को दरकिनार कर बच्चियों को बाहर जाने के लिए गेट खोला था।
क्या गिरफ्तार करेगी पुलिस?
अपराध कायम करने के बाद अब देखना है कि पुलिस गैर इरादतन हत्या के आरोपी छात्रावास अधीक्षिका पूनम सिंह और चौकीदार बिहारी यादव को कब तक गिरफ्तार करती है। सूत्र बताते हैं कि अब तक मामले केा टालती रही पुलिस के पास जब कोई रास्ता नहीं था तब अपराध कायम करना पड़ा। लेकिन बात अब गिरफ्तारी और इन पर कड़ी कार्रवाई की है?
Case filed against watchman including hostel superintendent
Case filed against watchman including hostel superintendent

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Maharashtra: महाराष्ट्र में स्टील कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, करोड़ों रुपये कैश सहित बेनामी संपत्ति जब्तJammu-Kashmir: उरी जैसे हमले की बड़ी साजिश हुई फेल, Pargal आर्मी कैंप में घुस रहे 3 आतंकी ढेरजगदीप धनखड़ आज लेंगे 14वें उपराष्ट्रपति पद की शपथ, दोपहर 12:30 बजे राष्ट्रपति भवन में होगा समारोहकाले कारनामों को छिपाने के लिए 'काला जादू' जैसे अंधविश्वासी शब्दों का इस्तेमाल करें बंद, राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशानाMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद अब विभाग बंटवारे का इंतजार, गृह और वित्त मंत्रालय पर मंथन जारीचुनाव में मुफ्त की योजनाओं पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाईRaksha Bandhan 2022: भाइयों के खुशहाल जीवन और समृद्धि के लिए उनकी राशि अनुसार बांधें इस रंग की राखीबिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.