कांग्रेस प्रत्याशी के वाहन की टक्कर से बालक की मौत, विरोध में परिजन ने किया चक्काजाम

ग्राम उदयपुर की घटना, पुलिस ने कार जब्त कर चालक को हिरासत में लिया, प्रकरण किया दर्ज

खंडवा. पुनासा-खंडवा मार्ग स्थित ग्राम उदयपुर में शनिवार सुबह मांधाता विधानसभा उपचुनाव के कांग्रेस प्रत्याशी के काफिले के वाहन की टक्कर में बालक की मौत हो गई। बालक की मौत होने पर घटना के विरोध में शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजन ने पुनासा-खंडवा मार्ग पर चक्काजाम किया। विरोध देख एसडीएम और एसडीओपी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाइश देकर मामला शांत कराया। फरियादी जानसिंह कोरकू निवासी उदयपुर ने नर्मदानगर थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। फरियादी ने शिकायत में कहा पोता मयंक पिता बंशी कोरकू (9) निवासी उदयपुर बबलू उर्फ प्रेमचंद के साथ फुलकी का ठेला लेकर पेट्रोल पंप की ओर जा रहे थे। हाथठेला छोडऩे के बाद मयंक पैदल घर लौट रहा था। इसी दौरान सुबह करीब 10 बजे मूंदी की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार (एमपी 68 सीए 0099) ने मयंक को टक्कर मार दी। घटना देख आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। कार में सवार कांग्रेस प्रत्याशी उत्तमपाल सिंह उतरे और घायल मयंक को उसी कार से मूंदी स्वास्थ्य केंद्र भेजा। अस्पताल में डॉक्टर ने मयंक को मृत घोषित कर दिया। मामले में मूंदी पुलिस ने मर्ग कायम किया और शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजन को सौंप दिया। वहीं नर्मदानगर पुलिस ने फरियादी की शिकायत पर कार चालक नरेंद्र पिता तारुसिंह गिन्नारे निवासी बडिय़ा ग्यासुर के खिलाफ धारा 304 (ए) के तहत प्रकरण दर्ज किया है।
आर्थिक सहायता की मांग कर किया चक्काजाम
पोस्टमार्टम के बाद परिजन लोडिंग वाहन में बालक का शव लेकर घर के लिए रवाना हुए। इसी दौरान ग्राम के पास पुनासा-खंडवा मार्ग पर शव रखा वाहन बीच सड़क पर खड़ा कर परिजन ने चक्काजाम कर दिया। विरोध में महिलाएं सड़क पर बैठी। लोगों ने मृत के परिवार को आर्थिक सहायता दिलाए जाने की मांग की। इसी दौरान कुछ लोगों ने पुरनी परिवार से मृत के परिवार को पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिलाए जाने की बात कही। घटनाक्रम की खबर मिलते ही अधिकारी मौके पर पहुंचे और हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। इसके बाद शाम करीब 4 बजे परिजन शव लेकर घर के लिए रवाना हुए।
प्रत्याशी के पिता बोले- मैं थाने रिपोर्र्ट कराने आया हूं
घटनाक्रम की खबर मिलते ही कांग्रेस प्रत्याशी के पिता राजनारायण पुरनी मूंदी थाने पहुंच गए। यहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा मुझे जानकारी मिली की हमारी कंपनी की गाड़ी से दुर्घटना हुई है। घटनास्थल पर गया तो वहां कोई नहीं मिला। इसलिए थाने रिपोर्ट दर्ज कराने आया हूं। गाड़ी और चालक को पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस अपनी वैधानिक कार्रवाई करे। दुर्घटना में बालक की मौत दुखद है। पीडि़त परिवार की हरसंभव मदद की जाएगी।

जितेंद्र तिवारी Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned