आज शाम से 60 घंटे के लिए शहर लॉकडाउन, जरूरी सेवाओं को रहेगी छूट

खंडवा शहर में शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार 6 बजे तक लॉक डाउन रहेगा। शासकीय कार्यालय भी शनिवार और रविवार दो दिन के लिए बंद रहेंगे।

By: harinath dwivedi

Published: 09 Apr 2021, 09:59 AM IST

खंडवा. बढ़ते कोरोना के प्रकोप के बाद मप्र गृह विभाग ने शुक्रवार से सोमवार तक लॉक डाउन की घोषणा की है। खंडवा शहर में शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार 6 बजे तक लॉक डाउन रहेगा। शासकीय कार्यालय भी शनिवार और रविवार दो दिन के लिए बंद रहेंगे। ये आदेश आगामी तीन माह के लिए जारी किया है। साथ ही रोजाना रात 10 से सुबह 6 बजे तक भी लॉकडाउन लगाया गया है। लॉक डाउन के दौरान जरूरी सेवाओं को जरूर छूट दी जाएगी। गुरुवार को साप्ताहिक लॉक डाउन के आदेश जारी होते ही हलचल मच गई। शाम होते ही बाजार में रौनक कम होने लगी। लोग समय से पहले ही दुकानें बंद कर घर की ओर प्रस्थान करते दिखाई दिए। रात 8 बजे बाद शहर में सन्नाटा छाया गया। प्रमुख बाजार रात 8.30 तक बंद हो गए। रात 10 बजे से पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। उल्लेखनीय है कि एक दिन पूर्व तक जिन शहरों में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, उन्हीं शहरों में लॉक डाउन की सूचना थी। गुरुवार को मप्र शासन गृह विभाग ने प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्रों में साप्ताहिक 60 घंटे के लॉक डाउन और रोजाना रात के लॉक डाउन की घोषणा की है।
इन गतिविधियों को प्रतिबंध से छूट रहेगी
गृह विभाग द्वारा जारी आदेश अनुसार अन्य राज्यों से माल व सेवाओं का आगमन, केमिस्ट, राशन की दुकानें, अस्पताल, पेट्रोल पंप, बैंक, एटीएम, दूध व सब्जी की दुकानों को प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। इसके साथ ही औद्योगिक मजदूरों, उद्योगों के लिए कच्चा व तैयार माल, औद्योगिक कर्मचारी व अधिकारियों का आवागमन, केंद्र व राज्य सरकार तथा स्थानीय निकाय के अधिकारी कर्मचारी, परीक्षा केंद्र आने जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा कार्य से जुड़े अधिकारी कर्मचारी भी लॉकडाउन के इस प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। इसके साथ ही एंबूलेंस व फायर ब्रिगेड, टीकाकरण के लिए आने जाने वाले नागरिकगण व अधिकारी कर्मचारी, बस स्टैंड, रेल्वे स्टेशन से आने जाने वाले यात्री भी लॉकडाउन के प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। समाचार पत्र वितरक, ठेलों पर सब्जी बेचने वाले, घरेलू गैस सिलेंडर प्रदायकर्ता कर्मचारी को भी प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned