आज से सशर्त बाजार होगा अनलॉक, ग्रामीण और शहरी सप्ताहिक हाट बाजारों पर जारी रहेगा प्रतिबंध

जिला प्रशासन ने जारी किया आदेश : शादी-ब्याह, अंतिम संस्कार के लिए 20-20 लोगों की अनुमति

By: harinath dwivedi

Published: 10 Jun 2021, 11:46 AM IST

खंडवा. कोरोना संक्रमण की दर में लगातार कमी आने के बाद प्रदेश में एक जून से कोरोना कफ्र्यू खोल दिया गया था। खंडवा में जिला प्रशासन ने कोरोना कफ्र्यू जारी रखा था। व्यापारियों के विरोध के बाद खंडवा में आधा-आधा बाजार दो जून से खोलने की इजाजत दी गई थी। लोगों की मांग थी कि पूरा बाजार खोला जाए। बुधवार को भाजपा प्रतिनिधि मंडल ने भी बाजार खोलने की मांग को लेकर कलेक्टर से चर्चा की थी। जिसके बाद गुरुवार से शहर का बाजार अनलॉक करने के आदेश जारी किए गए है। हालांकि आदेश के पहले ही पूरा बाजार खुल चुका था।
जिला प्रशासन द्वारा बुधवार शाम को 10 जून से शहर को सशर्त अनलॉक करने का आदेश जारी किया है। सभी दुकानें सुबह 10 से रात 8 बजे तक खुलेंगी। होटल, रेस्टारेंट बैठक व्यवस्था के 25 प्रतिशत क्षमता के साथ खोले जा सकेंगे। चाय, नाश्तों के ठेलों पर ग्राहकों के लिए बैठक व्यवस्था नहीं होगी। जिले में साप्ताहिक हाट बाजारों पर फिलहाल प्रतिबंध जारी रहेगा। मैरिज गार्डन, सिनेमाघर, जिम, स्कूल, कोचिंग संस्थान भी अभी बंद रहेंगे। शादी-ब्याह के आयोजन और अंतिम संस्कार के लिए 20-20 लोगों की अनुमति रहेगी। वहीं, रविवार को पूर्णता कोरोना कफ्र्यू जारी रहेगा। दुकानों, प्रतिष्ठानों पर संचालको, दुकानदारों को सोशल डिस्टेंस, मास्क, सैनेटाइजर का पालन करना होगा।
20 प्रतिशत ही हो पाया टीकाकरण
जिले में 16 जनवरी से आरंभ हुए टीकाकरण में कुल 931667 नागरिकों का टीकाकरण किया जाना है। अब तक हुए टीकाकरण की स्थिति देखे तो महज 20.70 प्रतिशत यानि कुल 192883 नागरिकों का ही टीकाकरण हुआ है। इसमें भी 81.95 को प्रथम डोज और 18.05 प्रतिशत को दूसरा डोज लगा है। जिले में संक्रमण की रफ्तार थामे रखनी है तो टीकाकरण की गति तेज करना होगी।
9 दिन में मिले 12 मरीज
जिले में संक्रमण की दर हद तक कम हो गई है। पूरे कोरोना काल का रिकार्ड देखा जाए तो अब तक कुल 4037 मरीज मिले है और जिले में संक्रमण की दर 2.83 प्रतिशत है। पिछले 9 दिन के आंकड़े देखे जाए तो कुल 10656 सैंपल में से 12 मरीज पॉजिटिव पाए गए। इन 9 दिनों में संक्रमण की दर 0.11 प्रतिशत रही है। जिले में रिकवरी रेट भी 97.17 प्रतिशत है।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned