तीन पुलिया फ्लाइओवर का धीमी गति से चल रहा कार्य, दो साल में बनना मुश्किल

40.4 करोड़ रुपए से बन रहे फ्लाइओवर ब्रिज में होगी देरी

खंडवा. शहर में यातायात की समस्या दूर करने बन रहा त्रिभुजाकार फ्लाइओवर ब्रिज का निर्माण पिछले 15 दिनों से धीमी गति से चल रहा है। साथ की गड्डे खोदने करने वाली पाइलिंग मशीन को भोपाल भेजा जा चुका है। इससे फ्लाइओवर ब्रिज के निर्माण में अब और विलब तय हैं।

उल्लेखनीय है कि 40.4 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे फ्लाइओवर ब्रिज का निर्माण 31 दिसंबर-19 को शुरू हुआ। निर्माण शुरू होने के बाद बाधाएं आना शुरू हो गईं। जगह-जगह पेयजल पाइप लाइन फूटने से गड्ढेे खोदने का काम बाधित हुआ। फिर रेलवे की एनओसी और हरसूद रोड पर रेलवे कॉलोनी के सामने पथरीली जमीन होने से गहरे गड्ढे खोदने की दिक्कत। पथरीली जमीन में गहरा गड्डा खोदने में पाइलिंग मशीन असफल होने से, निर्माण एजेंसी ने मशीन को भोपाल भेज दिया है। गड्ढे खोदने के लिए मुंबई से विंच मशीन निर्माण एजेंसी ने बुलाई है। ब्रिज के पिलर के लिए गड्ढे खोदने में काम लिया जएगा।

 आनंद रोड से भी शुरू नहीं हो पाया कार्य
सेतु निर्माण के ईई ने पिछले सप्ताह फ्लाइओवर ब्रिज निर्माण स्थल का निरीक्षण किया था। हरसूद रोड पर रेलवे कॉलोनी के सामने पथरीली जमीन और रेलवे की एनओसी नहीं होने से निर्माण कार्य बंद मिला था। तब ईई ने कहा था कि ब्रिज के कार्य को बंद न करें। एनओसी नहीं मिल जाती तब रेलवे के अलावा दूसरे क्षेत्र में कार्य जारी रखें। एक सप्ताह में आनंदनगर रोड से कार्य शुरू होने निर्देश दिए थे, लेकिन कार्य शुरू नहीं हो पाया। साथ ही हरसूद रोड पर हुए पाइल तोडऩे का कार्य भी धीरे-धीरे चल रहा।

हरसूद रोड पर पथरीली जमीन होने से पाइलिंग मशीन गहरा गड्ढा नहीं कर पा रही थी। किराए की मशीन से होने से ठेकेदार ने वापस भेज दिया है। मुंबई से विंच मशीन बुलाई गई है। जिसमें पिलर के लिए गड्ढे खोदने में आसानी होगी। ब्रिज का कार्य बंद नहीं है। पाइल तोडऩे का कार्य जारी है।-पीएन पांडे, एसडीओ, पीडब्ल्यूडी, सेतु निर्माण खंडवा।

Show More
dharmendra diwan Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned