एसी कोच में कूलिंग और चार्जिंग प्वाइंट बंद, रेलवे पर लगा जुर्माना

उपभोक्ता फोरम ने रेलवे पर 20 हजार रुपए का जुर्माना लगाया

By: राजीव जैन

Published: 10 Apr 2019, 08:33 PM IST

खंडवा. ट्रेन में सफर के दौरान एसी कोच की कूलिंग , पंखे और चार्जिंग प्वाइंट बंद था और शौचालय में पानी नहीं आ रहा था। इससे यात्रा के समय यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। सेवा में कमी पर यात्रियों ने रेलवे के विरुद्ध जिला उपभोक्ता फोरम में परिवाद पेश की। इस पर सुनवाई करते हुए फोरम ने रेलवे पर 20 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। आनंद नगर निवासी राजेन्द्र प्रसाद अग्रवाल पत्नी के साथ भुसावल से टाटानगर की यात्रा गीतांजलि एक्सप्रेस के सेकंड एसी कोच में कर रहे थे। दंपती ने 8 दिसंबर को भुसावल से टाटानगर की यात्रा की थी। वहीं वापसी में भी उसी ट्रेन से टाटानगर-भुसावल से खंडवा की यात्रा 11 दिसंबर २०17 को थी। यात्रा के दौरान ट्रेन के एसी कोच के एसी, पंखे और मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट बंद थे। इसके अलावा शौचालय में पानी नहीं आ रहा था। इस कारण यात्रा के दौरान कई परेशानियों का सामना करना पड़ा। यात्री ने रेलवे टीसी को शिकायत की। इसके बाद कोच अटेंडर से शिकायत पुस्तिका मांगी, लेकिन अटेंडर ने पुस्तिका यात्रा को नहीं दी। आवेदक ने ट्रेन से ही रेल मंत्रालय को मैसेज कर शिकायत भेजी लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ। इससे आहत होकर दंपती ने जिला उपभोक्ता फोरम में रेलवे के विरुद्ध परिवाद दायर किया। इस पर मंगलवार को जिला उपभोक्ता फोरम अध्यक्ष कनकलता सोनकर और सदस्य अंजलि जैन ने रेलवे को परिवादी को मानसिक क्षतिपूर्ति के रूप में २० हजार रुपए और परिवाद व्यय के दो हजार रुपए आगामी 30 दिन में भुगतान करने के रेलवे को आदेश दिए है।

राजीव जैन
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned