scriptcorona news badwani | बड़वानी जिले में कहीं भी नहीं लग रहा प्रिकाशन डोज | Patrika News

बड़वानी जिले में कहीं भी नहीं लग रहा प्रिकाशन डोज

18 से 59 आयु वर्ग को 386 रुपए राशि निर्धारित, निजी संस्थाएं नहीं ले रही रुचि

खंडवा

Published: July 12, 2022 04:56:31 pm

बड़वानी. जनजीवन पूरी तरह सामान्य हैं, लेकिन देश-प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मरीजों की लगातार बढ़ोतरी हो रही हैं। जिला महाराष्ट्र सीमा से सटा होने से इसका खतरा अधिक रहता है। वहीं शासन ने वैक्सीनेशन को लेकर नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं, इसके तहत प्रिकॉशन डोज अब सेकंड डोज लगने के 6 माह बाद लगाया जाएगा। हालांकि बीते माह से ही 18 से 59 आयु वर्ग को प्रिकाशन डोज निशुल्क लगना बंद हो चुके हैं।
इस आयु वर्ग को निजी स्वास्थ्य संस्थाओं, अस्पतालों में 386 रुपए खर्च कर प्रिकाशन डोज लगवाना है। हालांकि जिले में प्रिकाशन डोज को लेकर कोई भी संस्था या निजी अस्पताल कोई रुचि नहीं ले रही है। शासकीय स्तर पर सिर्फ 60 आयु वर्ग से अधिक के लोगों को प्रिकाशन डोज निशुल्क लग रहे हैं। वहीं 18 से 59 आयु वर्ग के कई लोगों को मोबाइल पर प्रिकाशन डोज के मैसेज प्राप्त हो रहे है, लेकिन उनका कहीं टीकाकरण नहीं हो पा रहा हैं।
भारत शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से मिले निर्देश में प्रिकॉशन डोज लगाए जाने की अवधि 9 माह (39 सप्ताह) से घटाकर 6 माह किया है। जारी आदेशानुसार हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों को शासकीय वैक्सीनेशन सेंटर पर प्रिकाशन डोज निशुल्क लगाया जाएगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रिकाशन डोज के लिए निजी अस्पताल कोविशील्ड या कोवैक्सीन सीधे निर्माता से खरीद सकेंगे। उन्हें प्रति डोज 236.25 रुपए में प्राप्त होगा। इसके अलावा वो प्रिकाशन डोज लगवाने वालों से 150 रुपए सर्विस चार्ज अलग से वसूल सकेंगे। इससे 18 से 59 आयु वर्ग के लोगों को निजी स्तर पर प्रिकाशन डोज का कुल चार्ज 386.25 रुपए चुकाने होंगे।
दूसरी लहर के बाद जिले में प्रथम टीकाकरण और द्वितीय टीकाकरण को लेकर आमजन में खासी रुचि देखने को मिली थी। वहीं द्वितीय टीके 9 माह बाद प्रिकाशन डोज लगाया जा रहा हैं। दोनों टीकाकरण पूर्ण होने के बाद लोगों को प्रिकाशन डोज के लिए मोबाइल पर मैसेज प्राप्त हो रहे हैं, लेकिन कहीं कोई केंद्र पर नहीं लगाया जा रहा हैं। इसको लेकर लोग जिला अस्पताल के नेत्र विभाग के टीकाकरण केंद्र के चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन वहां सिर्फ हेल्थ केयर, फ्रंट लाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को ही निशुल्क प्रिकाशन डोज लगाया जा रहा हैं। शेष लोगों को निजी स्तर पर टीकाकरण की जानकारी दी जा रही हैं, लेकिन जिले में कहीं भी निजी स्तर पर सशुल्क टीकाकरण केंद शुरू नहीं हो पाया। इस संबंध में गत माहों में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक (टीकाकरण) ने सीएमएचओ और जिला टीकाकरण अधिकारी को पत्र जारी किए थे। जिसमें जिले की निजी अस्पताल व संस्थाओं को सीधे निर्माता कंपनी से प्रिकाशन वैक्सीन खरीदने और सशुल्क लगावाने की व्यवस्था करवाना था। अधिकारियों के संपर्क के बावजूद निजी अस्पतालों द्वारा इसमें कोई रूचि नहीं ली जा रही हैं।
...कोविशीलड के हजारों डोज होंगे खराब
तीसरी लहर कमजोर रही है, इससे आमजन में कोरोना टीकाकरण को लेकर रूचि लगभग खत्म हो चुकी हैं। ऐसे में जिले में कोरोना वैक्सीनेशन कोवैक्सीन व कोवीशील्ड का स्टाक मौजूद है। जुलाई और अगस्त के दौरान हजारों डोज खराब हो जाएंगे। इसकी पूर्ति के लिए स्वास्थ्य विभाग ना तो विशेष अभियान शुरू कर पाया और ना ही इसके लिए उच्च स्तर से ऐसे कोई निर्देश प्राप्त हुए।
corona news badwani
corona news badwani
जिले में कोरोना वैक्सीनेशन के तहत हेल्थ वर्कर, फ्रंट लाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को शासकीय स्तर के केंद्र पर निशुल्क रुप से प्रिकाशन डोज लगाए जा रहे हैं। वहीं 18 से 59 आयु वर्ग के लिए निजी सेंटरों पर व्यवस्था के निर्देश हैं। हालांकि अब तक जिले की एक भी निजी अस्पताल ने इसके लिए स्वीकृति नहीं दी। संभाग क्षेत्र में इंदौर के अलावा आसपास के अन्य जिलों में भी यहीं स्थिति हैं।
डॉ मनोज खन्ना,
टीकाकरण अधिकारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.