कोरोना पॉजिटिव और क्वारंटीन किए गए हर मरीज के घर के बाहर अब इस तरह के लगाए जाएंगे स्टीकर

...ताकि संक्रमण का खतरा हो कम, अस्पताल से ठीक होकर घर जाने वालों के घर कोविड-19 के स्टीकर लगाए जाएंगे,होम क्वारंटीन में रहने वालों और डिस्चार्ज होने संक्रमितों से संक्रमण न फैले, इसके लिए कर रहे उपाय

 

खंडवा. कोरोना के संक्रमण का फैलाव अधिक न हो, इसके लिए अब हर कोरोना पॉजिटिव और क्वारंटीन किए गए हर मरीज के घर के बाहर स्टीकर लगाए जाएंगे।
जिला प्रशासन खंडवा के आदेश पर ये कार्रवाई स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम द्वारा संयुक्त रूप से की जाएगी। संभवत: शनिवार सुबह से ही ये स्टीकर लगाने की ये कार्रवाई करने के लिए दल निकलेगा। इसके पीछे सबसे बड़ा तर्क यही दिया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव, संदिग्ध या फिर अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर गए व्यक्ति का 14 दिन का होम क्वारंटीन पूरा हो और इस दौरान वो अन्य लोगों से न मिले, इसलिए ये जरूरी है कि आसपास के अन्य लोगों को भी इस बारे में पता रहे और संक्रमित या क्वारंटीन किए गए मरीज के घर पर अन्य किसी व्यक्ति का आना-जाना न हो।

नवागत कलेक्टर का ये पहला बड़ा कदम
नवागत कलेक्टर अनय द्विवेदी का ये पहला बड़ा कदम माना जा रहा है। उनके आने के बाद ही संक्रमण के फैलने के बिंदुओं की तरफ ध्यान दिया जा रहा है और उसे रोकने के लिए कदम भी उठाए जा रहे हैं। स्टीकर पर जिला प्रशासन खंडवा लिखा हुआ है।

इस तरह का है ये स्टीकर
बड़े अक्षरों में कोविड-19 लिखे हुए स्टीकर पर अंग्रेजी में डू नॉट विजिट यानी यहां प्रवास न करें की चेतावनी है तो वहीं, होम अंडर क्वारंटीन कब से कब तक है, इसका उल्लेख रहेगा। इसके अलावा कोरोना पॉजिटिव, संदिग्ध या क्वारंटीन किए गए व्यक्ति का नाम, पता लिखा होगा तो वहीं उस घर में कितने सदस्य हैं, इसकी संख्या का विवरण भी रहेगा।

- हमें प्राप्त हुए हैं स्टीकर
स्टीकर हमें प्राप्त हो गए हैं। इन्हें लगवाने की रणनीति भी तैयार है। संक्रमण को रोकने की दिशा में ये पहल है।
विक्रम मंडलोई, पीआरओ, हेल्थ

- मदद करने की जिम्मेदारी
नगर निगम ने कचरा कलेक्शन के लिए पहले भी नंबरिंग की है। अब स्टीकर लगाने में हमें मदद करने की जिम्मेदारी मिली है।
हिमांशु सिंह, आयुक्त, ननि

Corona virus
अमित जायसवाल Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned