Naskar Ashok Kasse

सरपंच बेटे पर हुई लोकायुक्त कार्रवाई को लेकर परेशान नाकेदार पिता ने जहर खा लिया। परिजन को खबर लगी तो तुरंत खालवा स्वास्थ्य केंद्र में गंभीर हालत में भर्ती कराया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

खंडवा. मध्यप्रदेश के खंडवा जिले के आदिवासी ब्लॉक खालवा में सरपंच बेटे पर हुई लोकायुक्त कार्रवाई को लेकर परेशान नाकेदार पिता ने जहर खा लिया। परिजन को खबर लगी तो तुरंत खालवा स्वास्थ्य केंद्र में गंभीर हालत में भर्ती कराया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। स्थिति बिगड़ते देख डॉक्टर ने इंदौर रेफर कर दिया। तभी इंदौर ले जाते समय रास्ते में सनावद के पास दमतोड़ दिया। मृतक के परिजन ने जिला अस्पताल प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। जानकारी के अनुसार आशापुर डिपो में पदस्थ नाकेदार अशोक (50) पिता टीपू कास्डे निवासी खालवा ने घर पर सल्फास खा लिया। परिजन ने उन्हें उल्टियां करते देखा तो अस्पताल लेकर पहुंचे। वहां से खंडवा लाए और इंदौर ले जाते समय नाकेदार अशोक की मौत हो गई। बाद में शव वापस जिला अस्पताल लाया गया। पीएम रविवार को होगा।
नाकेदार अशोक का बेटा सचिन कास्डे खालवा ग्राम पंचायत के सरपंच थे। 7 जुलाई 2015 को फरियादी सरस्वती बाई की शिकायत पर लोकायुक्त ने उन्हें इंदिरा आवास के तहत रिश्वत लेते हुए पकड़ा था। कार्रवाई के चलते छह माह पहले सचिन को सरपंच पद से हटा दिया गया। तभी से पूरा परिवार मानसिक तनाव में है। सचिन ने बताया कार्रवाई के बाद से पापा परेशान रहते थे। वहीं शिकायतकर्ता अब तक कोर्ट में पेश नहीं हुई है। जिससे बयान नहीं हो पा रहे हैं। ऐसे में रुपए खर्च होने के साथ ही उनका मानसिक तनाव बढ़ रहा था। इसी कारण से उन्होंने ऐसा कदम उठाया होगा।
मृतक के बेटे सचिन ने अस्पताल में इलाज नहीं मिलने से पिता की मौत होने का आरोप लगाया है। सचिन ने कहा खालवा से पापा को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। यहां मौजूद डॉक्टर ने केवल हाथ देखा और इंदौर ले जाने की बात कह दी। विरोध किया तो इलाज के नाम पर मात्र स्लाइन लगा दी। यदि अस्पताल में उचित इलाज मिल जाता तो पापा की जान बच जाती।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned