इस मेडिकल कॉलेज में छुट्टी पर जाने के बाद वापस नहीं आते डॉक्टर

-जो डॉक्टर अवकाश पर गए, वो नोटिस जारी करने के बाद भी नहीं आए
-मेडिकल कॉलेज में प्रमुख पदों के प्राध्यापक, ट्यूटर लंबे समय से अनुपस्थित
-पिछले डेढ़ साल से इंटरव्यू की प्रक्रिया भी अटकी, जबकि रतलाम मेडिकल कॉलेज में हर माह हो रहा है इंटरव्यू

खंडवा.
शासकीय मेडिकल कॉलेज खंडवा में स्थाई रिक्त पदों की पूर्ति पहले ही नहीं हो पा रही है। दूसरी ओर कई स्थाई डॉक्टर्स लंबे समय से अवकाश पर है। इन डॉक्टर्स को मेडिकल कॉलेज प्रबंधन द्वारा नोटिस भी जारी किया गया था, लेकिन समय सीमा में भी किसी ने कोई जवाब नहीं दिया। अब मेडिकल कॉलेज प्रबंधन इस मामले से उच्च अधिकारियों और मंगलवार को होने वाली बैठक में संभागायुक्त को अवगत कराएगा।
मेडिकल कॉलेज में प्राध्यापक, सह प्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक और प्रदर्शक के 166 में से 81 पद खाली है। वहीं, 85 पदों पर हुई नियुक्ति में भी कई डॉक्टर्स लंबे समय से अवकाश पर है। इसमें से कई तो बिना सूचना के ही गायब है। बिना सूचना के अवकाश पर गए आठ डॉक्टर्स को मेडिकल कॉलेज प्रबंधन द्वारा 21 दिसंबर को नोटिस जारी कर 23 दिसंबर तक कॉलेज में उपस्थित होने के निर्देश दिए गए थे। समय सीमा समाप्त होने के बाद भी न तो कोई उपस्थित हुआ, न किसी ने कोई जवाब दिया। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन अब इन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए उच्च अधिकारियों को अवगत कराएगा।
डेढ़ साल से नहीं हुए कोई इंटरव्यू
मेडिकल कॉलेज खंडवा में पिछले डेढ़ साल से रिक्त पदों के लिए कोई इंटरव्यू नहीं हुआ है। 81 प्रमुख पदों सहित पैरामेडिकल और चतुर्थ श्रेणी के करीब 230 से ज्यादा पद अभी भी रिक्त पड़े हुए है। खंडवा मेडिकल कॉलेज की अपेक्षा रतलाम मेडिकल कॉलेज में हर माह रिक्त पदों के लिए विज्ञप्ति निकलने के बाद इंटरव्यू हो रहे है। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि यहां आवेदन ही नहीं आ रहे है, ऐसे में इंटरव्यू कैसे करेंगे।
ये है लंबे समय से अनुपस्थित
जनरल मेडिसिन विभाग के सह प्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक, सर्जरी के सहायक प्राध्यापक, एनेस्थिसिया के सहायक प्राध्यापक, बायोकैमिस्ट्री, पैथालॉजी के एक-एक और कम्युनिटी मेडिसिन के दो प्रदर्शक (ट्यूटर) लंबे समय से अनुपस्थित है।
उच्च अधिकारियों को कराएंगे अवगत
लंबे समय से अनुपस्थित आठ डॉक्टर्स को नोटिस जारी किए गए है, किसी ने भी अभी तक जवाब नहीं भेजा है। इस मामले में चिकित्सा शिक्षा विभाग, यूनिवर्सिटी को पत्र लिखकर अवगत कराएंगे। मंगलवार को होने वाली बैठक में संभागायुक्त को भी इसकी जानकारी दी जाएगी।
डॉ. अनंत पंवार, डीन मेडिकल कॉलेज

Show More
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned