Precedent - किसान ने 7 एकड़ पथरीली बंजर जमीन पर चार वर्ष में तैयार कर दिए 700 आम और अमरूद के पेड़

मिसाल: हरियाली से आच्छादित हुआ धरती का आंचल

 

By: tarunendra chauhan

Updated: 23 Oct 2020, 02:39 PM IST

खंडवा. हरसूद तहसील क्षेत्र के ग्राम कसरावद के किसान सत्यनारायण यादव ने 7 एकड़ पड़ी पथरीली भूमि पर 500 आम और 200 जाम के पेड़ तैयार कर मिसाल कायम की है। यादव ने क्षेत्र के किसानों को संदेश दिया है कि मेहनत और लगन के बल पर विपरीत परिस्थितियों में भी स्वयं का स्थापित किया जा सकता है और आय को बढ़ाया जा सकता है। किसान सत्यनारायण का कहना है कि उनकी सात एकड़ जमीन पथरीली होने के कारण बेकार थी, जिस पर कोई फसल नहीं होती थी। जमीन का उपयोग नहीं कर पाने को लेकर यादव को चिंता भी होती थी।

चार वर्ष पूर्व नमामि यात्रा के दौरान उन्हे 500 आम के पौधे और 20 हजार रुपए की राशि दी गई, जिसके बाद यादव ने अपनी पथरीली बेकार पड़ी जमीन पर आम के पौधों का रोपण कर जमकर मेहनत की, जिसका परिणाम वर्तमान में पथरीली जमीन पर आम के पेड़ लहलहाते दिख रहे हैं। यादव का कहना है कि जमीन कैसी भी हो बेकार नहीं होती, बस जरूरत है तो जमीन के हिसाब से खेती करने की। उन्होंने आम के पौधों को रोपण करने के साथ ही 200 अमरूद के पौधों का भी रोपण कर दिया। वर्तमान में अमरूद में फल आना भी शुरू हो गया है, जिससे किसान को लाखों की आय होने का अनुमान है।

दिन-रात की मेहनत
हरसूद नगर से लगभग 8 किलोमीटर की दूर स्थित ग्राम कसरावद के किसान सत्यनारायण ने बताया कि शासन की इस योजना से प्रेरित होकर पथरीली पड़ी बंजर भूमि को संवारने का बीड़ा उठाया और काम शुरू कर दिया। चार साल की मेहनत से वर्तमान में पथरीली जमीन पर आम और अमरूद के 700 पेड़ लहलहा रहे हैं।

सिंचाई के लिए कराया बोर
पौधे लगाने के बाद सबसे बड़ी समस्या थी पानी की, जिसे दूर करने के लिए ट्यूबवेल करवाया और देखरेख प्रारंभ कर दी। समय-समय पर दवाइयों का छिड़काव और उचित देखरेख के कारण अब बंजर भूमि फलदार पेड़ों से आच्छादित हो चुकी है। 4 वर्षों की मेहनत रंग लाई और वर्तमान में अमरूद के पेड़ फलों से लदे हुए हैं। किसान यादव ने बताया कि सीजन में आम की फसल भी आने की आशा है। किसान को आस है कि अमरूद की फसल में उसे पर्याप्त आमदनी होगी।

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned