कोविड केयर अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर जीएनएम स्टाफ में आक्रोश

-शिकायत लेकर पहुंचीं आयसोलेनशन की नर्से मैट्रन ऑफिस, दर्ज कराया विरोध
-कहा आठ की बजाए 10 घंटे की ड्यूटी करा रहे, स्वास्थ्य परीक्षण भी नहीं हुआ
-आरएमओ ने कहा हम ही डर जाएंगे तो फिर इलाज कौन करेगा

खंडवा.
कोविड केयर अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव और संदिग्ध मरीजों के इलाज में लगे आयसोलेशन वार्ड के जीएनएम स्टाफ ने अव्यवस्थाओं को लेकर शुक्रवार अपना विरोध दर्ज कराया। जिला अस्पताल के मैट्रन ऑफिस पहुंचीं नर्सों ने आठ की बजाए 10 घंटे ड्यूटी करने और सुविधाएं न मिलने की शिकायत की। यहां मौजूद आरएमओ ने जीएनएम स्टाफ को समझाइश देते हुए कोविड-19 के निर्देशानुसार कार्रवाई करने की बात कही। जिसके बाद जीएनएम स्टाफ वहां से वापस लौटा।
कोविड-19 आपदा के चलते स्वास्थ्य विभाग द्वारा तीन माह के लिए 44 अस्थाई जीएनएम स्टाफ की भर्ती की गई है। जिसमें नर्सों सहित पुरुष नर्स भी शामिल हैं। शुक्रवार दोपहर को मैट्रन ऑफिस पहुंचीं इन नर्सों का कहना था कि उन्हें सुविधाएं नहीं मिल रही है। आयसोलेनश वार्ड में पूरी किट पहनकर 10 घंटे ड्यूटी करना पड़ रही है। किट पहनी होने के कारण पानी तक नहीं पी पा रहे है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज कर रहे है, जिसके कारण हमारा भी स्वास्थ्य परीक्षण होकर जांच सैंपल लिए जाने चाहिए। इसके आदेश भी आए हुए हैं, लेकिन कोई जांच नहीं की गई है। स्टाफ को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की गोलियां भी नहीं दी जा रही है। यहां एक डॉक्टर पहले ही कोरोना पॉजिटिव हो चुका है। जिसके बाद पूरे स्टाफ में डर बना हुआ है।
कोविड-19 के निर्देशानुसार करा रहे कार्य
नर्सों की शिकायत पर आरएमओ डॉ. शक्तिसिंह राठौर ने पहले तो स्टाफ के क्वारेंटाइन होने के बाद भी खुले में आने को लेकर नाराजगी जताई। डॉ. राठौर का कहना था कि कोविड-19 के निर्देशानुसार ही कार्य कराया जा रहा है। आयसोलेशन वार्ड में रोस्टर के अनुसार 8-8 घंटे की ड्यूटी लगाई है। यदि कोई समय पर ड्यूटी नहीं आ रहा है तो शिकायत करें। स्वास्थ्य परीक्षण को लेकर डॉ. राठौर का कहना था कि नियमानुसार जब तक किसी में लक्षण नहीं मिलते, तब तक सैंपल नहीं लिए जाते है। साथ ही उन्होंने स्टाफ को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की गोलियां भी उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। आरएमओ की समझाइश पर स्टाफ वापस अपने क्वारेंटाइन क्वाटर्स में लौट गया।

COVID-19
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned