scriptHemp smuggler sentenced to 10 years | गांजा तस्कर को 10 साल की सजा | Patrika News

गांजा तस्कर को 10 साल की सजा

locationखंडवाPublished: Aug 27, 2022 01:05:18 pm

Submitted by:

Dhirendra Gupta

अदालत ने लगाया एक लाख रुपए अर्थदंड

kerala_court_sexual_harrasment_case.jpg
खंडवा. ट्रक में गांजा का परिवहन करने का षड्यंत्र करने वाले मास्टर माइंड को 10 वर्ष का सश्रम कारावास एवं एक लाख रूपये अर्थदंड की सजा सुनाई गई है। न्यायालय विशेष न्यायाधीश एनडीपीएस एक्ट प्रकाश चंद्र आर्य की न्यायालय ने सजा का आदेश दिया है।
बताया गया है कि वर्ष 2016 में खंडवा शहर स्थित माखनलाल चतुर्वेदी बस स्टैंड के पास ओवर ब्रिज से 698.800 किलो के साथ पकड़े गए आरोपी रघुवीर सिंह उर्फ रघु, जुगल सिंह उर्फ सुनील, रोशन जैन, रूपेश जयसवाल, संजय जयसवाल को 10 मई 2019 में दोषी पाए जाने और उन्हें दंडित करने के बाद अपराध में मुख्य षड्यंत्र कारी महेन्द्रसिंह उर्फ विक्रम सिंह पिता भगवन सिंह (60) निवासी ग्राम आलोट जिला रतलाम को धारा 29 एडीपीएस एक्ट में 10 वर्ष सश्रम कारावास एवं एक लाख रुपए अर्थदंड से दंडित किया गया है। अभियोजन की ओर से प्रकरण का संचालन जिला लोक अभियोजन अधिकारी चन्द्रशेखर हुक्मलवार ने किया।
अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी मो. जाहिद खान ने बताया कि आसूचना अधिकारी अमित खरे एनसीबी इंदौर को 30 जून 2016 को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आंध्रप्रदेश नंबर का ट्रक एपी 31 टीजी 3535 में लगभग 7 क्विंटल गांजा का परिवहन उड़ीसा से मप्र के आलोट तक किया जा रहा है। अधीक्षक एसके सिंह के निर्देश पर अमित खरे ने अपने दल के साथ 1 जुलाई को रात करीब 11 बजे खंडवा में ट्रक समेत आरोपियों को पकड़ लिया था। गांजा महेन्द्र सिंह, जय सिंह, रूपेश जायसवाल, संजय जायसवाल एवं मूलचंद गुप्ता का होकर महेन्द्र सिंह के कहे अनुसार उसका परिवहन किया गया। एनसीबी द्वारा अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग पत्र न्यायालय में किया गया।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.