लापरवाही से मौत नहीं, जतीन की हुई है हत्या, परिजन ने लगाया आरोप

संदिग्ध की सारी वार्ड में मौत के तीन दिन पूर्व आ गई थी सैंपल रिपोर्ट निगेटिव

By: riyaz sagar

Updated: 21 May 2020, 05:41 PM IST

खंडवा. सारी वार्ड में 16 मई की रात हुई टैगोर कॉलोनी निवासी संदिग्ध मरीज जतीन वाधवा की मौत का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। जतीन के परिजन ने आरोप लगाया है कि उसकी मौत के तीन दिन पूर्व ही जतीन की रिपोर्ट निगेटिव आ गई थी। इसके बाद भी उसे सारी वार्ड में भर्ती कर रखा गया। जतीन की मौत इलाज में लापरवाही से नहीं बल्कि उसकी हत्या हुई है। मंगलवार को सोशल मीडिया पर जतीन के भाई ने इस मामले में पोस्ट कर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को कटघरे में खड़ा करते हुए जवाब मांगा है।
जतीन के भाई घनश्याम वाधवा ने बताया कि 8 मई को उसके भाई का सैंपल लेकर उसे सारी वार्ड में भर्ती किया गया था। उसकी जांच रिपोर्ट 13 मई को ही निगेटिव आ चुकी थी। स्वास्थ्य विभाग ने अपने आंकड़े सुधारने के लिए 16 मई तक जतीन को भर्ती रखा। इस दौरान इलाज में भारी लापरवाही बरती गई। इससे प्रतित होता है कि उसके भाई की मौत नहीं हुई है, बल्कि प्रशासन ने अपने आंकड़ों की दुरस्ती के लिए उसकी हत्या की है। इलाज के दौरान बरती गई लापरवाही के सबूत के तौर पर वीडियो क्लिप व वार्ड में साथ मे एडमिट समाज के अन्य युवा हैं। प्रशासन की लापरवाही से मैने अपना भाई खो दिया है, लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव होते हुए भी अंतिम समय में मेरे भाई को घर भी नहीं ला पाया। यदि 13 मई को ही मुझे नेगेटिव रिपोर्ट दे दी जाती तो आज मेरा भाई जिंदा और स्वस्थ होता।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
riyaz sagar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned