पति ने तलाक भेजा तो पत्नी ने वॉट्सएप-फेसबुक पर लिखा मैं आत्महत्या कर रही हूं

मध्यप्रदेश के खंडवा में सोशल मीडिया पर महिला के आत्महत्या करने का मैसेज आते ही भोपाल-खंडवा पुलिस हरकत में आ गई। ये है पूरा मामला।

By: संजय दुबे

Published: 03 Nov 2017, 09:34 AM IST

खंडवा. भोपाल की बहू और खंडवा का बेटा। १४ साल पहले शादी हुई। पति पेशे से इंजीनियर। बच्चे भी हुए, लेकिन दोनों बेटियों के होने से नाखुश या फिर आपसी खटपट के कारण पत्नी भोपाल चली गई। पति ने बुलाया तो वह नहीं आई। आखिर पति ने तलाक का नोटिस भेजा तो पत्नी ने फेसबुक और वॉट्सएप पर आत्महत्या का मैसेज सेंड कर दिया। फिर क्या था। भोपाल-खंडवा पुलिस हरकत में आई और ताबड़तोड़ पत्नी को समझाइश दी।

ये है पूरा मामला
शादी के 14 साल बाद आपसी विवाद में पति ने पत्नी को तलाक का नोटिस भेजा। इस पर पत्नी ने फेसबुक और वाट्सएप पर लिखा श्मैं आत्महत्या कर रही हूंश्। इस मैसेज को अपलोड कर शेयर कर दिया। इससे रिश्तेदार, परिचित और दोस्तों में खलबली मच गई। महिला ने खंडवा के पुलिस कंट्रोल रूम फ ोन करके भी यही बात कही। मामले को गंभीरता से लेकर मोघट थाना पुलिस हरकत में आई। उसके ससुराल पहुंचकर पिता का नंबर लेकर भोपाल स्थित मायके में रह रही युवती को ऐसा नहीं करने की समझाइश दी।

महीनेभर पहले ही पति को छोड़ भोपाल गई पत्नी
मामला आनंद नगर क्षेत्र का है। यहां के पेशे से इंजीनियर युवक से 14 साल पहले युवती की शादी हुई। युवती शहर के एक स्कूल में पढ़ाने लगी। दोनों की दो बेटियां भी हैं, लेकिन कुछ बातों पर परिवार में विवाद होने लगा। मामला पुलिस तक भी पहुंचा। एक महीने पहले युवती पति को छोड़कर भोपाल स्थित मायके चली गई। इस पर पति ने उसे तलाक के लिए कानूनी नोटिस भेजा।

दामाद व ससुर से मारपीट, घायल
खंडवा ञ्च पत्रिका. धनगांव थाना के ग्राम बकरगांव में ससुर और दामाद के साथ मारपीट की गई। महेंद्र पिता जसवंत सिंह (३६) निवासी बकरगांव बुधवार रात ग्राम से जा रहा था, तभी उसका गोविंद्र से विवाद हो गया। महेंद्र से मारपीट शुरू कर दी। मामले की खबर लगते ही महेंद्र के ससुर लालसिंह पिता मदन सिंह (६५) भी वहां पर पहुंचे और बीच-बचाव करने लगे। मारपीट में लालसिंह को भी चोट आईं। हंगामा होते देख ग्रामीण मौके पर पहुंचे और मामला शांत कराया।घायल महेंद्र और लालसिंह को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इधर, मारपीट के प्रकरण में धनगांव पुलिस द्वारा सुनवाई नहीं करने पर बुधवार को परिजन एसपी कार्यालय पहुंचे। यहां एसपी नवनीत भसीन से मामले की शिकायत की और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग है

संजय दुबे Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned