Railway का सुहाना सफर - खूबसूरत जंगल और लंबी सुरंगों से भरा यह रेल ट्रेक

खूबसूरत जंगल और लंबी सुरंगों से भरा रेल ट्रेक

By: deepak deewan

Published: 06 Jan 2020, 04:27 PM IST

खंडवा. देशभर में रेल ट्रेकों का जाल से बिछा हुआ है। इनमें से कई ट्रेक घने जंगलों से होकर जाते हैं जिनसे जंगल की खूबसूरती भी नजर आती है। ऐसा ही सुहाना सफर क्षेत्र में भी जल्द शुरू होगा।


महू से सनावद के बीच 84.6 किमी में गेज परिवर्तन और निर्माण कार्य शुरू नहीं हो सका है। हालांकि इस सेक्शन के वन क्षेत्र में ट्रैक बिछाने के लिए वन विभाग ने रेलवे को एनओसी दे दी है। रेल सूत्रों के अनुसार वन विभाग की ओर से रेलवे को निर्माण के लिए हरी झंडी मिल गई, लेकिन रेलवे गेज परिवर्तन कार्य शुरू करने में देरी कर रहा है। वन विभाग की अनुमति की शर्तों के आधार पर रेलवे ने जंगल कटाई के बदले पौधरोपण का प्लांटेशन कराने और जमीन निर्धारण कार्य नहीं किया है। इस कारण निर्माण कार्य में देरी हो रही है। इसके अलावा सुरंग व पुल के टेंडर हो चुके हैं। बावजूद इसके काम में तेजी नहीं आई। स्थितियों को देखे तो खंडवा को इंदौर से जुडऩे के लिए अभी करीब दो से तीन वर्षों का इंतजार करना होगा।


सुरंगों का निर्माण भी अटका
महू-सनावद के बीच करीब 12 किमी में सुरंगों का निर्माण कार्य होना है। इसको लेकर टैंडर जारी हो चुके हैं। कार्य में पातालपानी से चोरल के बीच 4.2 किमी की सुरंग बनेगी। वहीं मुख्त्यारा बलवाड़ा की ओर 1.6 किमी और सबसे छोटी सुरंग 80 मीटर की होगी। इस पूरे मार्ग पर 8 व्हाया डक्ट भी बनेंगे, जो 2.6 किमी के होंगे। वहीं नए अलाइनमेंट के कारण मौजूदा छोटी लाइन की तुलना में ब्राडगेज लाइन की लंबाई करीब 18 किमी तक बढ़ जाएगी। इस हिस्से में अलग-अलग हिस्सों में करीब 12 सुरंग बनेंगी। घने जंगल और सुरंगों से होकर गुजरती ट्रेन में सफर का आनंद ही कुछ अलग होगा।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned